Free Video Downloader

ऑस्ट्रेलिया को उंगलियों पर नचाने वाला भारतीय सितारा, जिसके नाम है देश की पहली टेस्ट हैट्रिक


चंडीगढ़: क्रिकेट जगत में ‘टर्बनेटर’ के नाम से मशहूर पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) आज अपना 42वां जन्मदिन मना रहे हैं. हरभजन का जन्म आज ही के दिन यानी 3 जुलाई 1980 में पंजाब के जालंधर शहर में हुआ था. उन्होंने भारतीय टीम के लिए अपना पहला मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु में खेला था. डेब्यू टेस्ट में वे 2 विकेट चटकाने में कामयाब हुए थे. इस टेस्ट में ऑस्ट्रलियाई टीम ने भारतीय टीम को 8 विकेट से मात देते हुए मैच अपने किया था. लेकिन हरभजन सिंह ने इसके बाद अपने प्रदर्शन से कई बड़े रिकॉर्ड बनाए.

हरभजन सिंह भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले चौथे गेंदबाज हैं. इसके अलावा देश के लिए टेस्ट क्रिकेट में पहली हैट्रिक उन्होंने ही ली थी. भारतीय स्पिनर ने यह ऐतिहासिक कारनामा साल 2001 में उस समय की सबसे मजबूत टीम मानी जाने वाली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था. दोनों टीमों के बीच यह ऐतिहासिक मुकाबला कोलकाता स्थित ऐतिहासिक मैदान ‘ईडन गार्डन’ में खेला गया था. इस मुकाबले हरभजन ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए रिकी पोंटिंग (0), विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट (1) और निचले क्रम के खिलाड़ी शेन वॉर्न (0) को आउट करते हुए इतिहास रच दिया था.

यह भी पढ़ें- IND vs ENG: मोहम्मद सिराज ने इस तरह जो रूट को फंसाया जाल में, इंग्लिश बल्लेबाज भी रह गया भौचक्का, Video

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए इस मुकाबले में हरभजन ने कुल 15 सफलता प्राप्त की थी. उन्होंने टीम के लिए पहली पारी में 38.2 ओवर की गेंदबाजी करते हुए 133 रन खर्च कर 7 विकेट लिए थे. इसके बाद दूसरी पारी में भी कहर बरपाते हुए 8 विकेट चटकाए. हरभजन की कातिलाना गेंदबाजी की बदौलत भारतीय टीम इस मुकाबले को 2 विकेट से अपने नाम करने में कामयाब रही थी.

हरभजन सिंह ने देश के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल 367 मुकाबले खेले. इस दौरान उन्होंने 444 पारियों में कुल 711 सफलता प्राप्त की. हरभजन ने देश के लिए टेस्ट क्रिकेट में 103 मैच खेलते हुए 190 पारियों में 32.5 की औसत से 417 सफलता प्राप्त की है. इसके अलावा उन्होंने 236 वनडे मैच खेलते हुए 227 पारियों में 33.4 की औसत से 269 और 28 टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 28 मैच खेलते हुए 27 पारियों में 25.3 की औसत से 25 विकेट चटकाए हैं.

गेंदबाजी के अलावा उन्होंने देश के लिए कई अहम मौकों पर अपने बल्ले से भी महत्वपूर्ण योगदान दिया है. हरभजन ने भारतीय टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट की 145 पारियों में 18.2 की औसत से 2224 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से दो शतक और नौ अर्द्धशतक निकले. टेस्ट क्रिकेट के अलावा वनडे की 128 पारियों में 13.3 की एवरेज से 1237 और टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट की 13 पारियों में 13.5 की औसत से 108 रन बनाए हैं.

हरभजन सिंह के लिए साल 2009 बेहद खास रहा. दरअसल भारतीय स्पिनर को इस साल क्रिकेट के मैदान में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म श्री से सम्मानित किया गया. हरभजन ने बीते साल उम्र के बढ़ते पड़ाव को देखते हुए क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने का फैसला लिया. वे 2007 टी20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा भी रहे.

Tags: Harbhajan singh, India vs Australia, Indian Cricket Team, On This Day, Team india





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  two  =  one