Free Video Downloader

नीरज चोपड़ा ने कुओर्तान गेम्स में चैंपियन बनने के बाद बताया अपना अगला प्लान


नई दिल्ली. ओलंपिक चैंपियन भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने फिनलैंड में कुओर्तान गेम्स में साल का पहला खिताब जीता. इसी बीच उन्होंने चोट की आशंका को दूर करते हुए कहा कि वह 30 जून से स्टॉकहोम में अपने डायमंड लीग सत्र को शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. कुओर्तान गेम्स के दौरान शनिवार को 24 वर्षीय चोपड़ा अपने तीसरे प्रयास के बाद फिसल गये थे. बारिश के कारण गीले और फिसलन भरे रन अप में आयोजित की गई भाला फेंक स्पर्धा के लिए परिस्थितियां अनुकूल नहीं थी.

नीरज चोपड़ा अपने तीसरे प्रयास में भाला फेंकने के बाद संतुलन खोकर नीचे गिर गए थे. उन्होंने अपने पहले प्रयास में ही 86.69 मीटर भाला फेंककर स्वर्ण पदक जीता. उन्होंने दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाले त्रिनिदाद और टोबैगो के 2012 के ओलंपिक चैंपियन केशोर्न वालकॉट (86.64 मीटर) और ग्रेनाडा के वर्ल्ड चैंपियन एंडरसन पीटर्स (84.75 मीटर) की तरह केवल 3 ही प्रयास किए.

इसे भी देखें, नीरज चोपड़ा ने सीजन का पहला गोल्ड मेडल जीता, ओलंपिक चैंपियन को पछाड़ा

चोपड़ा ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट में लिखा, ‘मौसम के कारण परिस्थितियां मुश्किल थीं लेकिन कुओर्तान में साल की अपनी पहली जीत से खुश हूं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं और 30 जून को बौहौसगलान (स्टॉकहोम डायमंड लीग) में अपना डायमंड लीग सत्र शुरू करने के लिए तैयार हूं.’

चोपड़ा ने इससे पहले फिनलैंड के तुर्कू में पावो नूरमी खेलों में 89.30 मीटर के प्रयास के साथ रजत जीता था. कुओर्टेन में उनका थ्रो इससे कम था लेकिन स्वर्ण पदक जीतने से निश्चित रूप से उनका मनोबल बढ़ा होगा. भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने भी कहा कि चोपड़ा पूरी तरह से फिट हैं.

एएफआई ने ट्वीट किया, ‘कुओर्तान से खबर: तीसरे प्रयास में फिसलने के कारण गिरने के बावजूद नीरज चोपड़ा फिट हैं. चिंता की कोई बात नहीं है. नीरज चोपड़ा को एक और शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई.’ चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक खेलों में गोल्ड जीतने के 10 महीने से भी अधिक समय बाद पावो नूरमी खेलों सिल्वर मेडल जीतकर शानदार वापसी की थी.

Tags: Javelin Throw, Neeraj Chopra, Neeraj chopra javelin thrower, Sports news





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  ⁄  two  =  two