ताइवान के खिलाफ आक्रामक हो रहे चीन ने किया घातक मिसाइल का सफल परीक्षण


बीजिंग. चीन ने बीच हवा में ही दुश्मन की मिसाइल को मार गिराने वाली मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है. चीनी रक्षा मंत्रालय ने रविवार देर रात जारी एक संक्षिप्त बयान में मिसाइल के बारे में कोई जानकारी नहीं दी, लेकिन कहा कि यह परीक्षण पूरी तरह से रक्षात्मक प्रकृति का था और किसी भी देश के प्रति लक्षित नहीं था.

चीन की रक्षा प्रणाली में मिसाइलें एक प्रमुख घटक हैं और उसके अंतरिक्ष कार्यक्रम की नींव हैं. यह परीक्षण ऐसे समय में हुआ है, जब चीन स्वशासित ताइवान के खिलाफ आक्रामकता बढ़ा रहा है. वह ताइवान पर अपना दावा जताता है और कहता है कि जरूरत पड़ने पर ताइवान पर कब्जे के लिए सैन्य बलों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

ताइवान को लेकर संघर्ष की स्थिति में अमेरिका हस्तक्षेप कर सकता है. दरअसल, अमेरिका ताइवान के लिए हथियारों का मुख्य आपूर्तिकर्ता है और उस पर मंडराते खतरे को ‘गंभीर चिंता’ का विषय मानने के लिए कानूनी रूप से बाध्य है.

चीन का दक्षिण चीन सागर के कुछ हिस्सों को लेकर फिलीपीन, वियतनाम और अन्य देशों से भी विवाद है. चीन को यूक्रेन पर हमले में रूस का समर्थन करते हुए भी देखा जा रहा है. हालांकि, उसने रूस को रक्षा संबंधी सहयोग मुहैया नहीं कराया है.

Tags: China



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  two  =  one