Free Video Downloader

नीरज चोपड़ा की नजरें बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स पर, बोले- 89.30 मीटर भाला थ्रो करने से बढ़ा आत्मविश्वास


नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने के बाद पहली स्पर्धा में अपना राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ने वाले भारत के स्टार भालाफेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) का कहना है कि वह अपने प्रदर्शन से खुश हैं और अपनी तकनीक पर और काम करना चाहते हैं. टोक्यो ओलंपिक के बाद नीरज ने मंगलवार को फिनलैंड में पावो नुरमी खेलों (Paav Nurmi Games 2022) में कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच 89 . 30 मीटर का भाला फेंककर अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा और रजत पदक जीता.

नीरज चोपड़ा ने कहा, ‘मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं. यह सत्र में मेरा पहला टूर्नामेंट था और सत्र की अच्छी शुरुआत की खुशी है. इससे मेरा आत्मविश्वास बढा है.’ मैं अपनी तकनीक, थ्रो और कुल प्रदर्शन पर काम करना चाहता हूं. आने वाले टूर्नामेंटों में अच्छे प्रदर्शन पर नजरें होंगी. इससे पहले उनका राष्ट्रीय रिकॉर्ड 88 . 07 मीटर का था जो पिछले साल पटियाला में बनाया था. उन्होंने सात अगस्त 2021 को टोक्यो में 87 . 58 मीटर के थ्रो के साथ स्वर्ण पदक जीता था.

यह भी पढ़ें:Paavo Nurmi Games 2022: नीरज चोपड़ा ने अपना ओलंपिक रिकॉर्ड तोड़ा, फिर भी हाथ से फिसला सोना

अब उनकी नजरें बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों पर है. नीरज चोपड़ा ने कहा , ‘अब अगले कुछ टूर्नामेंटों पर ध्यान है और राष्ट्रमंडल खेलों में भी कड़ी प्रतिस्पर्धा मिलेगी.’ फिनलैंड में मेजबान खिलाड़ी ओलिवर हेलांडर ने 89 . 83 मीटर के साथ स्वर्ण जीता जबकि मौजूदा विश्व चैंपियन ग्रेनाडा के एंडरसन पीटर्स तीसरे स्थान पर रहे. नीरज चोपड़ा ओलंपिक में ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धा में पदक जीतने वाले पहले भारतीय हैं.

24 वर्षीय नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलेंपिक के 10 महीन बाद ट्रैक पर उतरे थे. वह इस समय विदेश में ट्रेनिंग कर रहे हैं. राष्ट्रमंडल खेलों 2022 में नीरज स्वर्ण पदक के दावेदार के रूप में उतरेंगे. इससे पहले नीरज फिनलैंड में शनिवार को कोर्टेन खेलों में हिस्सा लेंगे. वह इस समय फिनलैंड में ही रह रहे हैं. इसके बाद वह डायमंड लीग में शिरकत करेंगे.

Tags: Athletics, Commonwealth Games, Neeraj Chopra



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixty four  ⁄  16  =