बाबर आजम ने अपने ही टीम साथी को कहा बुड्ढा, प्रेरणा मिली और बन गए प्लेयर ऑफ द मैच


नई दिल्ली. अकसर देखा जाता है कि टीम के साथी खिलाड़ी एक-दूसरे की टांग खीचते हैं. एक-दूसरे के साथ मस्ती करते हैं और कुछ-कुछ बोलते भी हैं. इससे माहौल भी बेहतर बना रहता है. कई बार हालांकि बात बढ़ जाती है और बाद में उससे जुड़े किस्से सामने आते हैं. पाकिस्तान क्रिकेट में ऐसा ही एक वाकया हुआ जब कप्तान बाबर आजम ने अपने ही साथी खिलाड़ी को बुड्ढा कह दिया. हालांकि खिलाड़ी को बुरा नहीं लगा और तो और उन्होंने मैच विजयी पारी खेली. खिलाड़ी का नाम है शादाब खान जिन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे में कमाल का प्रदर्शन किया और 78 गेंदों पर 86 रन बनाए. उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया.

पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच सीरीज का तीसरा और अंतिम वनडे मैच रविवार को खेला गया. पाकिस्तान ने इसे डीएलएस से 53 रन से जीता और सीरीज में 3-0 से जीत दर्ज की. पाकिस्तान के ऑलराउंडर शादाब खान ने तीसरे वनडे में दमदार खेल दिखाया और 78 गेंदों पर 4 चौके, 3 छक्के लगाते हुए 86 रन की पारी खेली. उनके अलावा इमाम उल हक ने 62 रन का योगदान दिया.

इसे भी देखें, एंडरसन ने 650वां विकेट बोल्ड करके झटका, 100 से अधिक बार किया है ऐसा- VIDEO

मुल्तान में मेजबान टीम ने इस मैच में 48 ओवर में 9 विकेट पर 269 रन बनाए जिसके बाद विंडीज टीम को 216 रन पर ऑलआउट कर दिया. वेस्टइंडीज के लिए अकील हुसैन ने 37 गेंदों पर 2 चौकों और 6 छक्कों से सजी 60 रन की पारी खेली लेकिन वह भी अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए. शादाब खान ने गेंदबाजी में भी कमाल दिखाया और 4 विकेट झटके.

शादाब खान ने मैच के बाद पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम द्वारा कहे गए कुछ शब्दों पर खुलकर बात की. उन्होंने बताया कि बाबर ने उन्हें बुड्ढा कहा था जिससे उन्हें बेहतर करने की प्रेरणा मिली. शादाब ने मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ‘यह एक दबाव की स्थिति थी. मैंने और खुशदिल शाह ने दूसरे पावरप्ले तक इसे आसान बनाने की योजना बनाई थी. हमने सोचा था कि 38वें ओवर के बाद 2 ओवर के पावर प्ले में अपने मौके का फायदा उठाएंगे.’

इसे भी देखें, पाकिस्तान को लगातार 2 सीरीज जीतने का हुआ फायदा, भारत को रैंकिंग में पीछे धकेला

उन्होंने आगे कहा, ‘बाबर ने मुझे बुड्ढा कहा था. मुझे इससे बहुत प्रेरणा मिली. चोटिल होने के बाद ठीक से फील्डिंग करना मुश्किल होता है, इसलिए उन्होंने मुझे ऐसा कहा. मैं नेशनल हाई-परफॉर्मेंस सेंटर में अधिक ओवर फेंकने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा हूं क्योंकि चोटिल होने के बाद शुरू में गेंदबाजी करना मुश्किल था. उम्मीद है कि मैं कड़ी मेहनत करता रहूंगा और सुधार करने की कोशिश करूंगा.’

Tags: Babar Azam, PAK vs WI, Pakistan, Pakistan cricket, Shadab Khan



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  ten  =  one