‘मैं डिप्रेशन में जा रहा हूं…’ कॉमनवेल्थ गेम्स से पहले भारतीय जिम्नास्ट ने आखिर क्यों कहा ऐसा? जानिए


नई दिल्ली. भारत के बेहतरीन पुरुष जिमनास्ट आशीष कुमार (Ashish Kumar) के चयन ट्रायल में पक्षपात के आरोप के एक महीने बाद राष्ट्रमंडल खेलों के लिए टीम में जगह बनाने की उम्मीद कम होती जा रही है जिससे वह अवसाद की ओर बढ़ रहे हैं. आशीष ने 2010 राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में पदक जीते थे. उन्होंने भारतीय जिमनास्टिक महासंघ (GFI) और भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) को लिखकर आरोप लगाया था कि आगामी बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों (CWG 2022)  के लिए चयन ट्रायल में उनके साथ नाइंसाफी हुई थी.

ट्रायल्स 11 और 12 मई को कराए गए थे. उन्होंने ट्रायल्स में शीर्ष आठ जिमनास्ट के प्रदर्शन की वीडियो फुटेज की अंतरराष्ट्रीय जज से समीक्षा कराने का अनुरोध किया था. साई ने इसके बाद जीएफआई से इस संबंध में रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा और यह भी कि अगर जरूरत पड़ी तो वह मामले की जांच के लिए एक समिति गठित करेगा.

यह भी पढ़ें:वर्ल्ड चैंपियन निकहत जरीन और लवलीना बोरगोहेन ने बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए किया क्वालिफाई

16 वर्षीय भारतीय ग्रैंडमास्टर प्रागननंदा ने अजेय रहते हुए जीता नॉर्वे शतरंज ओपन का खिताब, आनंद तीसरे स्थान पर रहे

हालांकि 32 साल के आशीष ने कहा कि उन्हें अभी तक जीएफआई या साई ने कुछ नहीं बताया है और उनकी उम्मीद हर बीते दिन के साथ खत्म होती जा रही है. आशीष ने कहा, ‘मैं इस पूरे प्रकरण से अवसाद महसूस कर रहा हूं. मैं नहीं जानता कि मैं ट्रेनिंग क्यूं कर रहा हूं. जब आपको पता ही नहीं है कि आप राष्ट्रमंडल खेलों में हिस्सा ले पाओगे या नहीं तो इस अनिश्चितता की स्थिति में ट्रेनिंग जारी रखना मुश्किल है.’

उन्होंने कहा, ‘साई या जीएफआई से मुझे कोई जवाब नहीं मिला है जबकि मैं लगातार ईमेल कर रहा हूं. हम एक अलग तरह का खेल खेलते हैं जिसमें काफी मानसिक मजबूती की जरूरत होती है. अगर आप मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं हो तो आप खुद को चोटिल करा सकते हो.’ जीएफआई अध्यक्ष सुधीर मित्तल ने कहा कि उन्होंने रिपोर्ट सौंप दी है और अब फैसला साई को करना है. मित्तल ने कहा, ‘ साई ने जब हमसे रिपोर्ट मांगी थी, हमने वो तुरंत सौंप दी थी. अब फैसला करना उनका काम है.’ दो जून को आशीष ने साई और जीएफआई को एक और पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने स्थिति साफ करने के बारे में पूछा था.

Tags: Cwg, Gymnastics, Sports news



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixty four  ⁄    =  sixteen