हार्दिक के जज्बे के फैन हुए हरभजन, बोले- भविष्य में भारत की अगुआई कर सकता है


नई दिल्ली. पूर्व दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि आगे बढ़कर उदाहरण पेश करना और ‘जज्बा तथा सकारात्मकता’ इंडियन प्रीमियर लीग खिताब विजेता कप्तान हार्दिक पंड्या को निकट भविष्य में भारतीय राष्ट्रीय टीम की कप्तानी का दावेदार बनाते हैं.

गुजरात टाइटंस की अगुआई करते हुए उसे पहले ही सत्र में आईपीएल खिताब दिलाने के बाद 28 साल के आलराउंडर हार्दिक को भारत के भविष्य के कप्तान के रूप में देखा जा रहा है. हरभजन ने पीटीआई को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘इस साल के आईपीएल की सबसे बड़ी चीजों में से एक गुजरात टाइटंस के कप्तान के रूप में हार्दिक पंड्या रहे और जिस तरह उन्होंने प्रतिष्ठित खिताब के दौरान टीम की अगुआई की वह काबिलेतारीफ है. उन्होंने कहा, ‘उसका जज्बा और सकारात्मक कप्तानी संकेत हैं कि वह भविष्य में टीम इंडिया की अगुआई कर सकता है.’

खिलाड़ियों की नीलामी में टाइंट्स की ओर से खरीदे गए खिलाड़ियों पर सवाल उठाने के बाद विशेषज्ञों ने टीम को खिताब का दावेदार नहीं माना था लेकिन हार्दिक की अगुआई में टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए खिताब अपने नाम किया. कप्तान हार्दिक ने अपनी कप्तानी से सभी को प्रभावित किया. उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ फाइनल में तीन विकेट चटकाने के अलावा 34 रन भी बनाए. मोटेरा में दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम में इस मुकाबले को देखने के लिए एक लाख से अधिक दर्शक मौजूद थे.

खराब फॉर्म से जूझ रहे विराट कोहली पर 417 टेस्ट और 269 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय विकेट चटकाने वाले इस पूर्व आफ स्पिनर ने कहा कि फॉर्म में गिरावट अस्थाई है और यह दिग्गज बल्लेबाज जल्द ही मजबूत वापसी करेगा. उन्होंने कहा, ‘कोहली ऐसा क्रिकेटर है जो मैदान पर होता है तो हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ देता है. वर्षों से उसने जो शानदार क्रिकेट खेला है उसे देखते हुए, मुझे पूरा यकीन है कि वह जल्द ही वापसी करेगा.’

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला के लिए भारतीय टीम प्रबंधन युवा खिलाड़ियों पर काफी निर्भर कर रहा है जिन्होंने इस साल आईपीएल में शानदार प्रदर्शन किया है. हरभजन ने कहा कि यह रुतुराज गायकवाड़, इशान किशन, उमरान मलिक और अर्शदीप सिंह के पास बेहतरीन मौका है कि वे अक्टूबर-नवंबर में आस्ट्रेलिया में होने वाले आईसीसी टी20 विश्व कप से पहले अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रभावित करें.

इस दिग्गज स्पिनर ने कहा, ‘यह इन युवाओं के पास स्वर्णिम मौका है कि वे इस साल आईसीसी टी20 विश्व कप से पहले कुछ विशेष करें. टीम प्रबंधन ने इस बार दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम में युवा खिलाड़ियों को शामिल किया है और उनमें क्षमता है कि वे इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता से पहले अच्छा प्रदर्शन करें.’

आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2001 में टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक बनाने वाले पहले भारतीय बने हरभजन ने कहा कि उनकी नजरें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 श्रृंखला में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के प्रदर्शन पर टिकी होंगी. चहल ने आईपीएल-15 में शानदार प्रदर्शन करते हुए पर्पल कैप (सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाज को मिलने वाला पुरस्कार) अपने नाम की.

उन्होंने का, ‘युजवेंद्र चहल अभी अपने जीवन की सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में है, आईपीएल में उसने शानदार प्रदर्शन करते हुए 27 विकेट चटकाए जो इस सत्र में किसी भी गेंदबाज द्वारा सर्वाधिक विकेट थे.’ दिनेश कार्तिक की जोरदार वापसी पर हरभजन ने 37 साल के इस अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज की सराहना फाइटर के रूप में की जिनके कभी हार नहीं मानने के जज्बे ने उन्हें भारतीय टीम में फिर जगह दिलाई.

हरभजन ने कहा, दिनेश कार्तिक जिस तरह का क्रिकेटर है वह अपने करियर के इस चरण में सिर्फ यह साबित करने का प्रयास कर रहा है कि वह अब भी भारत का प्रतिनिधित्व करने के काबिल है. उन्होंने कहा, ‘उसकी प्रतिबद्धता, रवैया और सबसे महत्वपूर्ण, यह तथ्य कि वह विश्वास करता है कि वह अब भी भारतीय क्रिकेट टीम को काफी कुछ दे सकता है, यह निश्चित तौर पर काबिलेतारीफ है और इस तरह उसने निश्चित तौर पर उदाहरण पेश किया है.’

Tags: Harbhajan singh, Hardik Pandya



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixty  ⁄  six  =