Free Video Downloader

IND vs SA T20: केएल राहुल की द. अफ्रीका के खिलाफ कप्तानी की अग्निपरीक्षा, चूके तो 4 खिलाड़ी जगह लेने को तैयार


नई दिल्ली. आईपीएल 2022 में केएल राहुल की कप्तानी पर सबकी नजर थी. उन्होंने नई नवेली टीम लखनऊ सुपर जायंट्स को प्लेऑफ तक तो पहुंचा दिया. लेकिन,आखिर में आकर चूक गए और टीम को खिताब नहीं दिला पाए. यह अब बीती बात हो गई है. अब केएल राहुल के सामने बतौर कप्तान इससे बड़ी चुनौती है. उन्हें रोहित शर्मा की गैरहाजिरी में 9 जून से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू हो रही 5 टी20 की सीरीज में टीम इंडिया की कप्तानी करनी है. विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह को भी इस सीरीज के लिए आराम दिया गया है. ऐसे में राहुल के सामने बतौर कप्तान चुनौती बड़ी है.

अगर टी20 सीरीज में बतौर कप्तान केएल राहुल का प्रदर्शन खराब रहता है, तो भविष्य में शायद ही उन्हें टीम इंडिया की फुलटाइम कप्तानी का मौका मिले. क्योंकि ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पंड्या और श्रेयस अय्यर के रूप में 4 खिलाड़ी कप्तानी की जिम्मेदारी संभालने के लिए पहले से ही कतार में खड़े हैं.

केएल राहुल को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 टी20 सीरीज में एक कप्तान के रूप में अपनी योग्यता साबित करनी होगी. उन्होंने, इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में भारतीय टीम की कप्तानी की थी. भारत का इस सीरीज में दक्षिण अफ्रीका ने पूरी तरह सफाया कर दिया था. हालांकि, तब विराट कोहली उनकी मदद के लिए टीम में मौजूद थे. लेकिन, अब उन्हें अकेले ही यह लड़ाई लड़नी होगी.

केएल राहुल पर सेलेक्टर्स की पैनी नजर होगी
टीम इंडिया की सेलेक्शन कमेटी के एक मेंबर ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया, “केएल राहुल के पास बतौर कप्तान खुद को साबित करने का यह शानदार मौका है. सीनियर खिलाड़ियों के नाम पर उनके पास भुवनेश्वर कुमार और हार्दिक पंड्या ही हैं. ऐसे में संभावित भारतीय कप्तान के रूप में केएल राहुल के लिए यह असली परीक्षा होगी. मैं यह नहीं कहूंगा कि वो दबाव में होंगे. लेकिन, एक बात तय है कि इस सीरीज में बतौर कप्तान उनके प्रदर्शन पर सेलेक्टर्स और बीसीसीआई की पैनी नजर जरूर रहेगी.”

कप्तान के रूप में केएल राहुल दबाव में क्यों होंगे?
कप्तान के रूप में केएल राहुल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 टी20 की सीरीज के दौरान दबाव में होंगे. इसकी वजह है इस साल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर बतौर कप्तान उनका प्रदर्शन. केएल राहुल ने पिछले दक्षिण अफ्रीका दौरे पर कुल 4 मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी की थी. उन्होंने विराट कोहली के चोटिल होने के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग में हुए दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम की कप्तानी की थी और इसमें टीम इंडिया को हार झेलनी पड़ी थी. टेस्ट सीरीज के बाद दोनों देशों के बीच 3 वनडे की सीरीज खेली गई थी. इस सीरीज में भी केएल राहुल ने भारतीय टीम की कमान संभाली थी. लेकिन, टीम इंडिया तीनों ही मुकाबले हार गई थी. यानी केएल राहुल की कप्तानी में भारत अब तक एक मैच भी नहीं जीता है.

केएल राहुल को भविष्य के कप्तान के रूप में देखा जा रहा
आईपीएल में भी बतौर कप्तान उनका रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं है. उन्होंने लीग में पंजाब किंग्स और लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए 42 मैचों में कप्तानी की है. इसमें से भी पचास फीसदी मैच ही जीते हैं. इसे किसी भी सूरत में अच्छा नहीं कहा जाएगा.

केएल राहुल की पिछले दक्षिण अफ्रीका दौरे पर कप्तानी को लेकर काफी आलोचना हुई थी. उन्होंने पूरी सीरीज में गेंदबाजों का सही से इस्तेमाल नहीं किया था और वहीं फील्डिंग सेट करने में भी वो फिसड्डी साबित हुए थे.

हार्दिक पंड्या का बड़ा दावा, कहा- मैं टीम इंडिया से कभी बाहर नहीं हुआ, खुद लिया था ब्रेक, Video

IND vs SA: हार्दिक पंड्या के बल्लेबाजी क्रम में होगा बदलाव? दिनेश कार्तिक के रूप में मिला है विकल्प

इसे लेकर सेलेक्शन कमेटी के मेंबर ने कहा, “देखिए, दक्षिण अफ्रीका दौरे में, उनके लिए नई जिम्मेदारी थी. टीम इंडिया की कमान संभालना और आईपीएल फ्रेंचाइजी की कप्तानी करना काफी अलग है. उन्होंने बतौर कप्तान पहली सीरीज में कुछ गलतियां की थीं, लेकिन उन्होंने इससे सीखा होगा. अब दक्षिण अफ्रीका की सीरीज में उनके प्रदर्शन को परखा जाएगा. मुझे यकीन है कि वो बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे.”

Tags: Hardik Pandya, India vs South Africa, KL Rahul, Rishabh Pant, Rohit sharma



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifty  ⁄  twenty five  =