Free Video Downloader

French Open: मारिन सिलिच ने 4 घंटे में जीता क्वार्टर फाइनल मुकाबला, सेमीफाइनल में कैसपर से होगी टक्कर


पेरिस. क्रोएिशया के मारिन सिलिच और कैसपर रड वर्ष के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में प्रवेश कर गए हैं. सिलिच ने सातवीं सीड आंद्रे रुबलेव को पुरुष एकल के क्वार्टर फाइनल में पांच सेट तक चले मुकाबले में 5-7, 6-3, 6-4, 3-6, 7-6 (10/2) से पराजित किया. दूसरी ओर कैसपर रड ने एक अन्य क्वार्टर फाइनल में डेनमार्क के होल्गर रुन को 6-1, 4-6, 7-6 (7/2), 6-3 पराजित कर अंतिम चार का टिकट कटाया. रड ग्रैंड स्लैम के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले नॉर्वे के पहले खिलाड़ी बने. 2014 के यूएस ओपन चैंपियन सिलिच ने 4 घंटे 10 मिनट में मुकाबला अपने नाम किया. सेमीफाइनल में सिलिच के सामने कैसपर रड होंगे.

दूसरी ओर महिला एकल वर्ग में दुनिया की नंबर एक महिला खिलाड़ी इगा स्वियातेक ने क्वार्टरफाइनल में जेसिका पेगुला को सीधे सेट में हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. शीर्ष वरीय स्वियातेक ने क्वार्टरफाइनल में 11वीं वरीय पेगुला को 6-3, 6-2 से शिकस्त दी. इस तरह वह लगातार 33 मैचों में जीत दर्ज करने में सफल रहीं जो सेरेना विलियम्स के 2013 में लगातार 34 मैच जीतने के बाद टूर पर जीत दर्ज करने का सबसे लंबा सफर है.

यह भी पढ़ें:French Open: गत फाइनलिस्ट स्टेफानोस सितसिपास को 19 साल के खिलाड़ी ने किया फ्रेंच ओपन से बाहर

French Open 2022: रोहन बोपन्ना ने रचा इतिहास, पहली बार फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचे

वर्ष 2020 में रोलां गैरां खिताब जीतने वाली स्वियातेक का सामना अब अंतिम चार में 20वीं रैंकिंग की रूसी खिलाड़ी दारिया कासातकिना से होगा जिन्होंने हमवतन वेरोनिका कुदेरमेतोवा को 6-4 7-6 से शिकस्त दी. वहीं दूसरे सेमीफाइनल में 18 वर्षीय अमेरिकी कोको गॉफ की भिड़ंत गैर वरीय इटली की 28 साल की मार्टिना ट्रेविसान से होगी.

स्वियातेक मार्च में डब्ल्यूटीए रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंची थीं जब एश बार्टी ने 25 साल की उम्र में संन्यास लेने का फैसला किया था जो उस समय नंबर एक खिलाड़ी थीं. स्वियातेक ने इसके बाद से लगातार अच्छा प्रदर्शन दिखाया है, उन्होंने पेगुला के खिलाफ 30 विनर जमाये जबकि प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी केवल 16 विनर लगा सकी.

हालांकि स्वियातेक अपने 21वें जन्मदिन के अगले दिन इतना दबदबे वाला खेल नहीं दिखा रही थीं. लेकिन उन्हें पहले सेट में चेयर अंपायर के ‘डबल बाउंस’ पर ध्यान नहीं देने का फायदा मिला जिसमें वह पिछड़ रही थीं.

Tags: French Open, Marin Cilic, Tennis



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  ⁄  one  =  9