Free Video Downloader

आर अश्विन ने कहा- हर मैच के प्रदर्शन का नहीं करता आकलन, उस दौर से निकल चुका हूं आगे


नई दिल्ली. भारत के स्टार स्पिनर आर अश्विन (R Ashwin) का मानना है कि वह अपने करियर में ऐसे चरण पर पहुंच गए हैं, जहां वह हर मैच के बाद अपने प्रदर्शन का आकलन करने को लेकर चिंतित नहीं होते. कोविड-19 के कारण काफी लोगों के लिए चीजें आसान नहीं रहीं, लेकिन इस ऑफ स्पिनर का मानना है कि पिछले 2 साल उनके लिए अच्छे रहे, जिसमें उन्हें स्वदेश में टेस्ट मैचों में सफलता मिली. इतना ही नहीं ऑस्ट्रेलिया का दौरा भी अच्छा रहा. भारत ने ऑस्ट्रेलिया में लगातार दूसरी बार टेस्ट सीरीज जीतकर इतिहास रचा. आईपीएल 2022 में वे राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा थे और टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया था.

भारत के लिए 86 टेस्ट में 442 विकेट चटकाने वाले 35 साल के आर अश्विन ने 4 साल के बाद सीमित ओवरों की टीम में भी वापसी की. पिछले साल यूएई में टी20 वर्ल्ड कप में खेले. अश्विन को हालांकि इस महीने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली घरेलू टी20 सीरीज के लिए आराम दिया गया है और वह इंग्लैंड के खिलाफ पिछली टेस्ट सीरीज के 5वें और अंतिम टेस्ट के लिए ब्रिटेन में भारतीय टीम के साथ जुड़ेंगे. अश्विन ने वूट सिलेक्ट के बंदों में था दम कार्यक्रम के लाॅन्च के दौरान कहा, ‘अगर आप वास्तविक उत्तर चाहते हैं, तो मैं अपने प्रदर्शन का बिल्कुल भी आकलन नहीं कर रहा. मैं अपने जीवन के उस चरण में नहीं हूं, जहां सोचूं कि मेरे आस-पास क्या हो रहा है.’

सिर्फ खेल का लुत्फ उठा रहा

उन्होंने कहा कि पिछले 2 साल काफी लोगों के लिए मुश्किल रहे, लेकिन मेरे लिए यह काफी अच्छे रहे. इसलिए सिर्फ अपने खेल का लुत्फ उठा रहा हूं. मुझे नहीं पता कि मैदान पर इसका पूरा असर दिख रहा है या नहीं. लेकिन मैं मानसिक रूप से काफी अच्छी स्थिति में हूं. 2 महीने इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने के बाद अश्विन अब जून-जुलाई में इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम के साथ जाएंगे, जहां पिछले साल की सीरीज का पांचवां और अंतिम टेस्ट खेला जाएगा. भारत सीरीज में 2-1 से आगे चल रहा है.

5 महीने बाद जाएंगे घर

आर अश्विन हालांकि 5 महीने घर से दूर रहने के बाद ब्रेक अपने परिवार के साथ बिताने को लेकर उत्सुक हैं. उन्होंने कहा कि ईमानदारी से कहूं, तो अभी मैंने कोई योजना नहीं बनाई है. इंटरनेशनल सीजन काफी लंबा रहा. लंबे समय से बायो बबल में रहा हूं. 5 महीने के बाद घर आने का मौका मिला है. इस समय मैं बस प्रत्येक दिन का लुत्फ उठाना चाहता हूं और आगे के बारे में नहीं सोचना चाहता.

बिना बायो बबल के हो रही है सीरीज

कोविड-19 महामारी का असर कम होने के चलते दुनिया भर के क्रिकेट बोर्ड बायो बबल के बिना सीरीज के आयोजन की योजना बना रहे हैं और अश्विन को ऐसा होने की खुशी है. जनवरी 2021 में ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक सफलता के दौरान अश्विन ने गेंद और बल्ले दोनों ने योगदान दिया. सिडनी टेस्ट के 5वें दिन कमर में जकड़न के बावजूद अश्विन बल्लेबाजी करने उतरे और हनुमा विहारी के साथ मिलकर टेस्ट ड्रॉ कराया. दोनों ने 128 गेंद तक बल्लेबाजी की.

CSK की महिला टीम भी खेलेगी आईपीएल में! टी20 लीग के आयोजन की तारीख आई सामने

सौरव गांगुली नहीं छोड़ रहे हैं अध्यक्ष का पद, बीसीसीआई की ओर से आई बड़ी जानकारी

अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतने को लेकर कहा कि यह हमारी सर्वश्रेष्ठ सीरीज में से एक थी, जिसका मैं हिस्सा रहा. यहां तक कि अब भी जब आप उसके बारे में बात करते हैं, तो वह अहसास ताजा हो जाता है. सभी अच्छी यादें याद आती हैं. हमने जिन मुश्किल लम्हों का सामना किया, जीत के बाद का जश्न, अब भी सारी चीजें जेहन में ताजा हैं.

Tags: BCCI, India Vs England, IPL, IPL 2022, R ashwin, Team india



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

96  ⁄    =  sixteen