Free Video Downloader

‘मुश्किल वक्त आया लेकिन इन 3 की वजह से…’ हार्दिक पंड्या ने किसे दिया सफलता का श्रेय?


नई दिल्ली. स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या की कप्तानी वाली टीम गुजरात टाइटंस ने अपने पहले ही सीजन में आईपीएल फाइनल में जगह बना ली. गुजरात टाइटंस ने मंगलवार को कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले गए पहले क्वालिफायर में राजस्थान रॉयल्स को 7 विकेट से मात दी. राजस्थान ने गुजरात को 189 रन का लक्ष्य दिया जिसे उसने 3 गेंद बाकी रहते हासिल कर लिया. जीत के बाद हार्दिक पंड्या ने अपनी टीम के खिलाड़ियों की तारीफ की. उन्होंने साथ ही अपने परिवार को भी शुक्रिया कहा.

डेविड मिलर ने गुजरात की इस जीत में अहम भूमिका निभाई. मिलर ने 68 रन की नाबाद पारी खेली और कप्तान हार्दिक पंड्या के साथ चौथे विकेट के लिए नाबाद शतकीय साझेदारी भी की. हार्दिक पंड्या 27 गेंदों पर 5 चौकों की मदद से 40 रन बनाकर नाबाद लौटे. उन्होंने 1 विकेट भी लिया.

इसे भी देखें, हार्दिक-मिलर ने गुजरात को दिलाया फाइनल का टिकट, 7 विकेट से हारा राजस्थान

हार्दिक पंड्या ने मैच के बाद कहा, ‘मैंने अपने जीवन में चीजों को संतुलित करना शुरू कर दिया है. इसके लिए पिछले कुछ समय से कोशिश कर रहा था लेकिन अंत में, मेरे परिवार, मेरे बेटे, मेरी पत्नी और मेरे भाई ने भी एक बड़ी भूमिका निभाई है. उन्होंने मुझे जीवन में तटस्थ रहने की अनुमति दी. मैं घर जाने और परिवार के साथ कुछ समय बिताने के लिए उत्सुक हूं, इसी से मुझे एक बेहतर क्रिकेटर बनने में मदद मिली है.’ हार्दिक अपनी फिटनेस को लेकर भी काफी परेशान रहे थे. इसके चलते वह काफी वक्त तक मैदान से बाहर रहे. फिर लौटे तो गेंदबाजी नहीं कर पाए. अब उन्होंने धीरे-धीरे गेंदबाजी करना शुरू किया और आईपीएल के मौजूदा सीजन में दमदार प्रदर्शन किया.

उन्होंने आगे कहा, ‘अभी ज्यादा कुछ नहीं सोच रहे हैं. टीम के सभी 23 खिलाड़ी अलग-अलग किरदारों में हैं, वे सभी अलग तरह की चीजें मुकाबले में लेकर आते हैं. मैंने डेविड मिलर से सिर्फ इतना कहा कि अगर आपके आसपास अच्छे लोग हैं तो आपको अच्छी चीजें मिलती हैं.’

उन्होंने कहा, ‘मैं देख सकता हूं कि जो खिलाड़ी अंतिम एकादश में शामिल नहीं हैं वे भी चाहते हैं कि टीम अच्छा प्रदर्शन करे. राशिद (खान) ने पूरे टूर्नामेंट के दौरान शानदार प्रदर्शन किया. मुझे मिलर पर गर्व है. मैंने उन्हें कहा कि खेल का सम्मान करना चाहिए. मुंबई इंडियन्स के खिलाफ हमने गलती कर दी थी और यहां चाहते थे कि खेल का सम्मान करें. हम दोनों ही मैच को खत्म करना चाहते थे.’

28 वर्षीय पंड्या ने कहा, ‘जहां भी मेरी टीम को मुझे खेलने की जरूरत होती है, मैं उतरता हूं. मैं आमतौर पर यह नहीं मांगता कि कहां बल्लेबाजी करना चाहता हूं. मुझे टीम के लिए खेलकर सफलता मिली है. हमें यह सुनिश्चित करना है कि हर कोई इस सफलता में शामिल हो.’

Tags: Cricket news, Gujarat Titans, Hardik Pandya, IPL 2022



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  ⁄  1  =  four