Free Video Downloader

IPL 2022: गुजरात टाइटंस के बल्लेबाज के खिलाफ हुआ एक्शन, अंपायर के फैसले पर ड्रेसिंग रूम में मचाया था कोहराम


नई दिल्ली. आईपीएल 2022 का 67वां मुकाबला गुजरात टाइटंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया. यह गुजरात का आखिरी लीग मुकाबला था और इसमें उसे बैंगलोर के हाथों हार झेलनी पड़ी. इस मैच के दौरान ऐसा कुछ देखने को मिला, जो जेंटलमैन गेम कहे जाने वाले क्रिकेट से मेल नहीं खाता. गुजरात टाइंटस के बल्लेबाज मैथ्यू वेड अंपायर के फैसले से इतना नाखुश नजर आए कि उन्होंने ड्रेसिंग रूम में कोहराम मचा दिया. इसका वीडियो सबने देखा. अब इस हरकत के लिए वेड पर एक्शन लिया गया है. उन्हें आईपीएल के कोड ऑफ कंडक्ट तोड़ने के लिए फटकार लगाई गई है. अब आपको बताते हैं कि आखिर ऐसा क्या हुआ था, जिस पर वेड इतना भड़क गए और ऐसी हरकत कर डाली.

गुजरात टाइटंस ने आरसीबी के खिलाफ पहले बल्लेबाजी की थी. गुजरात की पारी का छठा ओवर ग्लेन मैक्सवेल फेंकने आए थे और इसी ओवर में वो विवाद हुआ, जिसकी वजह से वेड को फटकार खानी पड़ी. दरअसल, वेड ने मैक्सवेल के इस ओवर की दूसरी गेंद पर स्वीप शॉट खेलने की कोशिश की. लेकिन वो चूक गए और गेंद सीधे पैड पर जा लगी. मैक्सवेल और आरसीबी के दूसरे खिलाड़ियों ने एलबीडब्ल्यू की अपील की. इस पर अंपायर ने उंगली उठा दी. इसके बाद वेड ने अंपायर के फैसले के खिलाफ रिव्यू लिया. लेकिन उसमें भी फैसला नहीं बदला. इससे आग बबूला होकर वेड ड्रेसिंग रूम की तरफ लौट गए. उन्होंने 16 रन बनाए.

वेड ने ड्रेसिंग रूम में मचाया कोहराम
इसके बाद जो हुआ, वो वाकई शर्मनाक है. वेड जब ड्रेसिंग रूम में पहुंचे तो उनका गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने कोहराम मचाना शुरू कर दिया. वेड ने पहले हेलमेट जमीन पर दे मारा और इसके बाद बल्ले को इधर-उधर मारने लगे. उनकी यह करतूत कैमरों में कैद हो गई और इसका वीडियो वायरल होने लगा. मैच खत्म होने के बाद रैफरी के सामने उनकी पेशी हुई. जहां वेड ने अपने किए पर माफी मांगी और गलती स्वीकारी.

RCB vs GT: मैथ्यू वेड ने आउट होने के बाद फेंक दिया हेलमेट, कई बार बैट को जमीन पर मारा, VIDEO

VIDEO: मैक्सवेल पहली गेंद पर थे आउट, पर बेल्स नहीं गिरे, अगली 17 गेंद पर बना दिए 40 रन

वेड को मैच रैफरी ने फटकार लगाई
मैथ्यू वेड ने जो गलती की, वो आईपीएल के कोड ऑफ कंडक्ट के आर्टिकल 2.5 के लेवल-1 के तहत आता है. कोई भी खिलाड़ी जब इसके तहत दोषी पाया जाता है, तो उस पर आखिरी फैसला करने का अधिकार मैच रैफरी के पास होता है और उनके फैसले को मानना बाध्यकारी होता है. इस मामले में वेड की किस्मत अच्छी रही कि उन्हें सिर्फ फटकारने के बाद ही छोड़ दिया गया.

Tags: Gujarat Titans, IPL 2022, Matthew wade, Royal Challengers Bangalore





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty seven  ⁄    =  three