Free Video Downloader

VIDEO: चीन में अचानक लाल हो गया आसमान, ‘प्रलय’ की आशंका से डरे लोग


बीजिंग. चीन में अचानक से आसमान के लाल रंग ने लोगों में खौफ भर दिया. आसमान एकदम खून की तरह लाल था. ये लाल आसमान झाउशान शहर में देखने को मिला, जो कोरोना का कहर झेल रहे शंघाई के करीब ही है. आसमान को खून की तरह लाल देख लोगों ने अलग-अलग अटकलें लगानी शुरू कर दी. कुछ लोगों ने माना कि कोरोना कहर दिखाने वाला है और प्रकृति इसका संकेत दे रही है. छोटे बच्चों ने आसमान को लाल देख कर कहा कि उन्हें डर लग रहा है.

कोहरे के साथ लाल आसमान को पूरे शहर में शनिवार को देखा गया. चीन में टिकटॉक की ही तरह के वीडियो प्लेटफॉर्म डॉयिन (Douyin) पर लोगों ने जब ये वीडियो शेयर किया तो तेजी से वायरल हो उठा. लोगों ने आशंका जताई कि ये कोरोना वायरस से जुड़ा एक अपशकुन हो सकता है.

VIDEO: बेहद अनोखा है चीन का ये पारंपरिक खेल, रैकेट की जगह पैर से मारते हैं शटलकॉक!

क्या है लाल रंग के आसमान की सच्चाई
झाउशान के मौसम विज्ञान ब्यूरो ने इन अटकलों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस घटना में कुछ भी अलौकिक नहीं है. उन्होंने कहा कि कोहरा काफी ज्यादा था और बादल कम ऊंचाई पर थे. ये प्रकाश के अपवर्तन (Refraction) के कारण हुई घटना है.

सरकारी मीडिया CCTV के मुताबिक एक स्थानीय मछली पकड़ने वाली कंपनी ने इस बात की पुष्टि की है कि प्रकाश का अपवर्तन उनकी मछली पकड़ने वाली नौकाओं से हुआ था. कंपनी के डिप्टी मैनेजर ने कहा कि ये लाल रोशनी हमारी फिशिंग बोट्स से आ रही थी. हमें मछली पकड़ने के दौरान इन्हें चालू करना पड़ता है. जब इन लाइटों को जलाते हैं तो पानी से टकरा कर ये आसमान में जाती हैं, लेकिन कोहरा होने के कारण ये लाल दिखे लगा. तटीय इलाकों में ये बेहद सामान्य है.

ताइवान का साथ न दे सके अमेरिका और जापान, इसलिए चीन ने समंदर में की जंगी जहाज लियाओनिंग की तैनाती

सोशल मीडिया पर लगाई जा रही ऐसी अटकलें
एक यूजर ने लिखा कि आसमान खून की तरह लाल है, जो बिल्कुल अच्छा नहीं दिखता. दूसरे यूजर ने लिखा कि आसमान का लाल होना सामान्य नहीं है. सात दिनों में भूकंप आने वाला है. एक अन्य ने तो आसमान के रंग से दुनिया खत्म होने की घोषणा भी कर दी और कहा कि प्रलय जल्द ही होने वाला है. कुछ ने लाल आसमान को पॉजिटिव तरीके से लिया और कहा कि हमारे देश का रंग लाल है, लाल गुड लक और समृद्धि का प्रतीक है.

Tags: China





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  ⁄  one  =  seven