ताइवान और गुआम पर मिसाइल हमले का अभ्‍यास कर रहा चीन: रिपोर्ट


नई दिल्‍ली. चीन (China) की सेना ने मिसाइल हमले की तैयारी शुरू कर दी है. वह ताइवान (Taiwan) और गुआम पर हमले का अभ्‍यास कर रहा है. चीन ने अपने जहाज रोधी मिसाइल प्रशिक्षण में बड़े, वाहक आकार के लक्ष्‍यों को छोटे जहाजों और नौसैनिक स्‍टेशनों को लक्षित करते हुए अभ्‍यास शुरू कर दिया है. यह जानकारी सैटेलाइट द्वारा ली गई तस्‍वीरों से मिली है. ताइपे के नौसेना विश्लेषक के अनुसार, वे झिंजियांग के दूरस्थ तकलामाकन में एक प्रशिक्षण शिविर दिखाते हैं. इसमें साफ जाहिर है कि एक नौसैनिक अड्डे में लंगर डाले एक नकली जहाज है ओर वह लक्ष्‍यों पर हमला कर रहा है. यह अभ्‍यास ऐसे लेआउट को तैयार कर किया जा रहा है, जैसा कि वास्‍तव में पूर्वोत्‍तर ताइवान और गुआम में बने हुए हैं.

हाल के उपग्रह से ली गई तस्‍वीरों से साफ पता चलता है कि चीन की सेना, विध्वंसक हथियार और डॉक सहित रेगिस्‍तान के किनारे पर बड़े पैमाने पर हमला बोलने की तैयारी में है. उसने भी लक्ष्‍य और सीमा के लिए तैयारी कर रखी है. यूएस नेवल इंस्‍टीट्यूट ( यूएसएनआई) समाचार साइट ने बताया है कि चीन कई तरह से हमले करने की तैयारी कर चुका है.

दरअसल चीन की सेना हमेशा से ही अमेरिका को जापान के पूर्व में रक्षा की दूसरी पंक्ति मानती है. इसमें गुआम मारियानास द्वीप श्रृंखला में सबसे महत्वपूर्ण आधार है. यूएस बी-1, बी-2 और बी-52 सामरिक बमवर्षक गुआम के एंडरसन वायु सेना बेस पर तैनात हैं. बी-2 और बी-52 सामरिक बमवर्षक परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम हैं. हाल ही में ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने एक इंटरव्यू में कहा था कि ताइवान और भारत के क्षेत्रों पर चीन का दावा बेतुका है. चीन ऐसे दावे कर रहा है जो यथास्थिति के खिलाफ है. इतना ही नहीं ये दावे सिर्फ बेतुके नहीं बल्कि बेहद खतरनाक भी हो सकते हैं. उन्‍होंने कहा कि यदि चीन, ताइवान पर हमला करता है तो उसे इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. जोसेफ वूने ने कहा है कि चीन की सेना उन्हें छेड़ने की कोशिश न करें. वरना ताइवान भी उन्हें छोड़ेगा नहीं. चीन ने अगर उनके देश पर हमला किया, तो फिर युद्ध का बराबर जवाब दिया जाएगा.

Tags: China, China-Taiwan, Missile



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

48  ⁄  eight  =