कभी राफेल नडाल तो कभी नोवाक जोकोविच ने तोड़ा ग्रैंडस्लैम जीतने का सपना, अब 35 की उम्र में लिया संन्यास


नई दिल्ली. दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ी केविन एंडरसन ने 35 साल की उम्र में पेशेवर टेनिस को अलविदा कह दिया. केविन 2 बार ग्रैंडस्लैम फाइनल में पहुंचे लेकिन उनका खिताबी जीत का सपना कभी पूरा नहीं हो पाया. वह 2 बार के ग्रैंडस्लैम उप-विजेता हैं. केविन ने सोशल मीडिया पर अपने फैंस को इस फैसले की जानकारी दी.

6 फुट 8 इंच लंबे एंडरसन 2017 में यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचे लेकिन स्पेन के दिग्गज राफेल नडाल से हार गए थे. इसके बाद वह अगले ही साल यानी 2018 में विंबलडन के फाइनल में पहुंचे लेकिन एक बार फिर उनका खिताबी जीत का सपना पूरा नहीं हो सका. तब उन्हें नोवाक जोकोविच से हार झेलनी पड़ी थी.

इसे भी देखें, मैड्रिड ओपन: नाओमी ओसाका और गरबाइन मुगुरुजा उलटफेर का शिकार

एंडरसन ने 7 एटीपी टूर खिताब जीते. इनमें पिछले साल जुलाई में न्यूपोर्ट में जीता गया हाल ऑफ फेम टेनिस चैंपियनशिप भी शामिल है. उन्होंने कहा, ‘टेनिस के कारण मैं दक्षिण अफ्रीका में जोहानिसबर्ग में अपनी जड़ों से बाहर निकलकर वास्तविक दुनिया से रूबरू हुआ. इससे मुझे कई तरह की चुनौतियों और भावनाओं का अनुभव हुआ.’

केविन ने इंस्टाग्राम पर अपने पोस्ट में लिखा, ‘मैं आखिरकार पेशेवर टेनिस को अलविदा कहने के मुश्किल फैसले पर पहुंच पाया हूं. कई लोग ऐसे थे जिन्होंने मेरा इस सफर में साथ दिया और विश्वास रखा कि दक्षिण अफ्रीका का बच्चा अपने ख्वाब पूरे सकता है.’ उन्होंने इस लंबे पोस्ट में अपने माता-पिता, भाई, पत्नी, कोच और यूनिवर्सिटी का भी शुक्रिया अदा किया.

Tags: South africa, Sports news, Tennis, Tennis News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty  ⁄    =  ten