सुपर फॉर्मूला कार रेसिंग चैंपियनशिप नोएडा में दौड़ेगी इंदौर की कार, कम बजट में स्टूडेंट्स ने बनायी


इंदौर. 22 अगस्त से नोएडा में होने जा रहे सुपर फॉर्मूला कार रेसिंग चेंपियनशिप में इंदौर के एक निजी कॉलेज की टीम का सिलेक्शन हो गया है. टीम की फॉर्मूला रेसिंग कार तैयार है. ये कार इंदौर में ही बनायी गयी है और इसमें खास टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है. इससे एयर पॉल्यूशन नहीं होगा. इसके लिए इंजन में कैथेलेटिक कनवर्टर का इस्तेमाल किया गया है.

सुप्रा एसएई इंडिया-2022 कॉम्पटीशन, सोसाइटी ऑफ ऑटोमोटिव इंजीनियर्स और कई ऑटोमोबाइल कंपनी मिलकर कर रही हैं. नोएडा के बुद्धा इंटरनेशनल ट्रैक पर यह रेस होगी. इस कॉम्पिटिशन में देशभर की IIT और NIT को मिलाकर 110 से ज्यादा टीमें शामिल हो रही हैं. उसमें इंदौर के एक निजी कॉलेज के स्टूडेंट्स की टीम की फॉर्मूला कार भी दौड़ती हुई नजर आएगी

कम बजट में फॉर्मूला कार

कार का वजन और बजट कम करने के लिए मैकेनिज्म से लेकर महत्वपूर्ण उपकरण तक कॉलेज में ही तैयार किए हैं. उसमें इस्तेमाल होने वाले अपराइड, हब, रोल केस और एक्जॉस्ट जैसे महत्वपूर्ण पार्ट्स कॉलेज लैब में ही तैयार किए हैं. कार तैयार करने के लिए 7 लाख रुपए का बजट बनाया था. लेकिन इसके पार्ट कॉलेज में ही तैयार किए गए इसलिए कार उससे भी कम सिर्फ 4.5 लाख रुपए में बन गयी. हालांकि, ट्रायल के बाद कार में कुछ बदलाव करना है, जिसके लिए फंड की दिक्कत आ रही है.

ये भी पढ़ें- पढ़िए अच्छी खबर : जहां ठूंठ थे अब वहां है घना जंगल, पेड़ काटने पर लगता है 10 हजार का जुर्माना

130 से 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार

कार में केटीएम 390 इंजन लगाया गया है. इसकी मदद से कार को 130 से 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार मिलेगी. कार में होसियर के टायर्स, रिम और व्हील वुड के मास्टर सिलेंडर को इंपोर्ट कर लगाया है. कार तैयार करने के लिए प्रोफेसर सचिन बलसारा, गिरीश ठकार और विनोद पारे ने स्टूडेंट्स को गाइड किया. सुप्रा रेस में शामिल होने के लिए फर्स्ट ईयर से लेकर फाइनल ईयर के कम्प्यूटर, इलेक्ट्रिक, प्रोडक्शन, आईटी, सिविल और मैकेनिकल इंजीनियरिंग के 25 स्टूडेंट ने कार तैयार की है. टीम में 6 लड़कियां भी शामिल हैं. यह टीम 22 अगस्त से 26 अगस्त तक कॉम्पिटिशन में हिस्सा लेने नोएडा जाएगी. वहां पर टीम प्रजेंटेशन, टेक्निकल इंस्पेक्शन, एक्सलरेशन टेस्ट, सीड-बेड और ऑटो क्रॉस टेस्ट के एंड्यूरेंस टेस्ट में कार दौड़ाई जाएगी.

रेस का इंतजार

कम बजट में इंदौर के इंजीनियरों ने मिलकर रेसिंग कार तैयार की है. स्टूडेंट्स उत्साह में हैं. उन्हें इंतजार है रेस का जिस दिन इनकी कार रेसिंग ट्रैक पर फर्राटे भरेगी.

Tags: Formula 1, Formula One, Indore News Update



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ninety six  ⁄  twelve  =