Free Video Downloader

IPL 2022 का आधा सफर खत्म, टीम इंडिया के टी20 वर्ल्ड कप जीतने की राह में 4 बड़ी चुनौती


नई दिल्ली. आईपीएल 2022 आधा सफर तय कर चुका है. इस दौरान कई अनकैप्ड भारतीयों ने शानदार प्रदर्शन किया तो कई बड़े स्टार अपने रूतबे के मुताबिक, चमक नहीं बिखेर पाए. इसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह जैसे दिग्गज शामिल हैं. जो टीम इंडिया के सबसे अहम खिलाड़ी हैं. इनके फॉर्म के कारण सिर्फ इनकी आईपीएल फ्रेंचाइजी ही नहीं , बल्कि टीम इंडिया के सेलेक्टर्स की चिंता भी बढ़ी हुई होगी. ऐसा होना लाजमी भी है. क्योंकि इस साल अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप खेला जाना है.

अभी टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया चुनी तो नहीं गई है. लेकिन मोटे तौर पर सेलेक्टर्स ने उन खिलाड़ियों को जरूर शॉर्टलिस्ट कर रखा होगा, जो ऑस्ट्रेलिया के लिए उड़ान भरेंगे. लेकिन, आईपीएल में टीम इंडिया के दिग्गजों के फ्लॉप शो से सेलेक्टर्स जरूर सोच में पड़ गए होंगे. क्योंकि पिछले साल टी20 विश्व कप में भारत का प्रदर्शन फीका रहा था और इस बार भी टीम इंडिया के टी20 विश्व कप जीतने की राह में अभी से ही 4 बड़ी चुनौतियां खड़ी नजर आ रही हैं. एक-एक कर आपको इन चुनौतियों के बारे में बताते हैं.

क्या टीम इंडिया के दिग्गज टी20 वर्ल्ड कप के लिए तैयार हैं? आईपीएल 2022 में इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखते हुए ऐसा नहीं लगता. वैसे, आईपीएल और टी20 विश्व कप की तुलना नहीं की जा सकती है. लेकिन फॉर्मेट दोनों का एक ही है और आईपीएल में अच्छे प्रदर्शन के कारण कई खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया के दरवाजे भी खुले हैं. ऐसे में आईपीएल के प्रदर्शन को पूरी तरह नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. इसलिए विराट कोहली, रोहित शर्मा, ईशान किशन और जसप्रीत बुमराह के प्रदर्शन ने चिंता बढ़ाई हुई है.

टीम इंडिया के दिग्गज खिलाड़ियों का फीका प्रदर्शन

विराट ने आईपीएल 2022 के 8 मैच में 17 की औसत से 119 और रोहित ने इतने ही मुकाबलों में 19 की औसत से 153 रन बनाए हैं और दोनों ही बल्लेबाजों ने अर्धशतक नहीं जड़े हैं. ईशान किशन का प्रदर्शन विराट-रोहित से बेहतर है. लेकिन इतना नहीं कि उससे सेलेक्टर्स राहत की सांस लें. ईशान ने टॉप ऑर्डर में 108 के स्ट्राइक रेट से 199 रन बनाए हैं, जो टी20 के लिहाज से अच्छा नहीं माना जाएगा.

विराट कोहली के फॉर्म ने बढ़ाई चिंता

विराट कोहली ने टी20 विश्व कप से ऐन पहले भारतीय टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया था और इसके बाद आरसीबी की भी कप्तानी छोड़ दी. जानकारों और फैंस को उम्मीद थी कि कप्तानी के दबाव से मुक्त होने के बाद कोहली के बल्ले से रन बरसेंगे और शतकों का सूखा भी खत्म हो जाएगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. वो आईपीएल 2022 में लगातार दो मैच में गोल्डन डक का शिकार हुए. उनके कमजोर प्रदर्शन के कारण ही इस सीजन में आरसीबी के अभियान को झटका लगा है.

विराट टी20 वर्ल्ड कप बतौर बल्लेबाज खेलेंगे और तीन नंबर पर ही उनके बल्लेबाजी करने की संभावना है. लेकिन आईपीएल 2022 में इसी नंबर पर खेलते हुए उन्होंने 8 मैच में 17 की औसत से 119 रन बनाए हैं. 41 नाबाद और 48 रन की पारी को छोड़ दें तो कोहली ने आईपीएल में 12, 5, 1,12,0 और 0 रन बनाए हैं.

रोहित शर्मा कप्तानी और बल्लेबाजी दोनों में फिसड्डी

अगर कोहली फॉर्म से जूझ रहे हैं तो रोहित शर्मा भी आईपीएल 2022 में अपनी चमक खोते दिखे हैं. रोहित की कप्तानी में 5 बार आईपीएल जीतने वाली मुंबई इंडियंस प्लेऑफ की रेस से बाहर हो चुकी है. टीम ने लगातार 8 मुकाबले गंवाए और रोहित आईपीएल इतिहास के पहले कप्तान बने, जिनकी अगुवाई में किसी टीम ने अपने शुरुआती 8 मुकाबले हारे. रोहित ने टीम इंडिया के फुलटाइम कप्तान के रूप में धमाकेदार आगाज किया था. उन्होंने श्रीलंका और वेस्टइंडीज को क्लीन स्वीप किया. लेकिन आईपीएल में उनका जादू चलता नहीं दिख रहा.

कप्तानी के अलावा बल्लेबाजी में भी हिटमैन बेरंग नजर आए हैं. उन्होंने 8 मैच में महज 19 के औसत से 153 रन बनाए हैं. वो इस सीजन में एक भी फिफ्टी नहीं लगा पाए हैं. ऐसे में टीम इंडिया के टी20 विश्व जीतने से पहले उनके इस प्रदर्शन ने भारतीय टीम मैनेजमेंट और सेलेक्टर्स की चिंताएं तो जरूर बढ़ाईं होंगी.

बुमराह नहीं छोड़ पा रहे छाप

जसप्रीत बुमराह की आज गिनती दुनिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में होती है. लेकिन आईपीएल 2022 में तो उनकी गेंदबाजी में धार ही नजर नहीं आ रही. वो विकेट निकालने में नाकाम रहे हैं. मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी आक्रमण की अगुवाई करने में उनकी नाकामी भी एक वजह है कि मुंबई को इस सीजन में पहली जीत का इंतजार है. बुमराह ने 8 मैच में 30 ओवर गेंदबाजी की है. लेकिन विकेट 5 ही लिए हैं. इसमें से भी 3 विकेट एक ही मैच में हासिल किए थे. यानी बाकी दो विकेट उन्होंने 6 मैच में हासिल किए. जब स्ट्राइक गेंदबाज ही विकेट नहीं निकाल पाएगा, तो फिर टीम के ऐसे प्रदर्शन पर शायद ही किसी को हैरानी होगी. लेकिन टीम इंडिया के लिए यह अच्छा संकेत नहीं है. क्योंकि टीम इंडिया को 15 साल बाद टी20 विश्व कप जीतना है तो फिर बुमराह जैसे स्ट्राइक गेंदबाज का पूरे रंग में होना जरूरी है.

IPL 2022: गुजरात टाइटंस, राजस्‍थान रॉयल्‍स, सनराइजर्स हैदराबाद…जानिए पावरप्‍ले में किस टीम का दबदबा

सबसे महंगे खिलाड़ी ने दिया बड़ा सिरदर्द

ईशान किशन आईपीएल 2022 ऑक्शन के सबसे महंगे खिलाड़ी थे. उन्हें मुंबई इंडियंस ने 15 करोड़ से अधिक देकर अपने साथ जोड़ा. लेकिन ईशन सबसे कीमती खिलाड़ी होने के रूतबे को अपने प्रदर्शन से अब तक नहीं सही ठहरा पाए. ईशान ने भले ही इस सीजन में मुंबई के लिए 199 रन बनाए हैं. लेकिन बतौर ओपनर उनका जो रोल है, उसे निभा नहीं पाए हैं. उनका स्ट्राइक रेट 108 का है.

वो तेज गेंदबाजी के आगे संघर्ष करते दिखे हैं. खासतौर पर शॉर्ट बॉल उनकी कमजोरी बनकर उभरी है. टी20 विश्व कप ऑस्ट्रेलिया में होना है. ऐसे में ईशान ऑस्ट्रेलिया की कंडीशन के हिसाब से फिट नहीं बैठते हैं. खुद सुनील गावस्कर भी यही बात कह चुके हैं.

IPL 2022: क्‍या शिखर धवन के भाई हैं ऋषि धवन? जानिए क्‍या हैं दोनों के बीच रिश्‍ता

क्‍या IPL 2022 से बाहर हो गई है CSK? 8 में से गंवा चुकी है 6 मैच

मिडिल ऑर्डर बल्लेबाजों ने बढ़ाई चिंता

ऐसा नहीं है कि सिर्फ विराट का फॉर्म ही सेलेक्टर्स और टीम मैनेजमेंट की परेशानी बढ़ा रहा है. ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर के प्रदर्शन में भी निरंतरता का अभाव है. आईपीएल 2022 में यह नजर भी आया है. पंत ने भले ही 37 के औसत से 188 रन बनाए हैं. लेकिन इस सीजन में उनके बल्ले से कोई अर्धशतक नहीं निकला है और ना ही वो कोई तूफानी पारी खेल पाएं, जिसके लिए वो जाने जाते हैं. मैच फिनिश करने की उनकी जो क्षमता है, वो भी इस सीजन में नजर नहीं आई है. इसलिए दिल्ली कैपिटल्स के प्रदर्शन भी उतार-चढ़ाव भरा है.

Tags: IPL 2022, Ishan kishan, Jasprit Bumrah, Rishabh Pant, Rohit sharma, T20 World Cup 2022, Virat Kohli



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four  ⁄  2  =