Free Video Downloader

IND vs SA: भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज में ना बायो बबल और ना ही आइसोलेशन में रहेंगे खिलाड़ी


नई दिल्ली. भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 5 मैचों की टी20 सीरीज का आगाज 9 जून से होना है. इससे पहले एक बड़ा अपडेट मिला है. भारत की मेजबानी में होने वाली इस सीरीज में जैविक रूप से सुरक्षित मौहाल यानी बायो-सिक्योर बबल नहीं बनाने की पूरी संभावना है. क्रिकेटरों की मानसिक स्थिति को बेहतर रखने के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ऐसा कर सकता है. कोविड-19 महामारी को देखते हुए बायो बबल क्रिकेटरों के जीवन का अहम हिस्सा बन गए थे और विदेशों तथा स्वदेश में लगभग सारी सीरीज बायो-सिक्योर बबल में आयोजित की गईं, जिनमें कड़े नियमों को लागू किया गया.

टी20 सीरीज के मुकाबले 9 से 19 जून के बीच दिल्ली, कटक, विशाखापत्तनम, राजकोट और बेंगलुरु में खेले जाने हैं. खिलाड़ियों और अधिकारियों की सुरक्षा को देखते हुए इंडियन प्रीमियर लीग बायो बबल में खेली जा रही है. आईपीएल 29 मई को खत्म होगा और बीसीसीआई नहीं चाहता कि उसके खिलाड़ी लीग खत्म होने के बाद एक बार फिर जैविक रूप से सुरक्षित माहौल का हिस्सा बनें.

इसे भी देखें, दक्षिण अफ्रीकी टीम जून में करेगी भारत का दौरा, दिल्ली में खेलेगी पहला टी20 मैच; जानिए- पूरा शेड्यूल

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया, ‘अगर सब कुछ सही रहा और चीजें अभी की तरह नियंत्रण में रहीं तो दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज के दौरान जैविक रूप से सुरक्षित माहौल और कड़ा आइसोलेशन नहीं होगा. इसके बाद हम आयरलैंड और इंग्लैंड जाएंगे और इन देशों में भी कोई बायो बबल नहीं होगा.’

बोर्ड को पता है कि जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में जीवन लंबे समय तक व्यावहारिक नहीं है क्योंकि इससे खिलाड़ियों का मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होता है. अधिकारी ने कहा, ‘कुछ खिलाड़ियों को समय समय पर ब्रेक मिला है लेकिन अगर बड़ी तस्वीर देखें तो एक के बाद एक सीरीज और अब 2 महीने आईपीएल के दौरान जैविक रूप से सुरक्षित माहौल का हिस्सा होना खिलाड़ियों के लिए काफी थकाऊ है.’

ब्रिटेन में अभी किसी भी खेल के लिए जैविक रूप से सुरक्षित माहौल नहीं है और इसलिए उम्मीद है कि भारतीय टीम को भी वहां बायो बबल का हिस्सा नहीं बनना होगा. भारतीय टीम को ब्रिटेन में तीन हफ्ते में एक टेस्ट और सीमित ओवरों के छह मुकाबले खेलने हैं. हालांकि माना जा रहा है कि खिलाड़ियों का नियमित परीक्षण होगा जिससे कि सुनिश्चित हो सके कि टीम में कोई पॉजिटिव मामला नहीं हो.

इसे भी देखें, मुंबई इंडियंस की 8वीं हार के बाद रोहित शर्मा ने लिखा इमोशनल पोस्ट, फैंस बोले- साथ रहेंगे, चाहे जो हो जाए

कप्तान रोहित शर्मा के अलावा सीनियर बल्लेबाजों विराट कोहली, लोकेश राहुल, विकेटकीपर ऋषभ पंत, तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, स्पिनर रविंद्र जडेजा के काम के बोझ के प्रबंधन के लिए प्रभावी कार्यक्रम तैयार किया जा रहा है जिससे कि ब्रिटेन रवाना होने से पहले उन्हें पर्याप्त आराम मिल सके.

सूत्रों ने कहा, ‘9 से 19 जून के बीच पांच शहरों में पांच टी20 मुकाबले होंगे. बेशक सभी खिलाड़ी सभी मैच नहीं खेलेंगे. किसी को पूर्ण आराम दिया जा सकता है और किसी को कुछ मैच खेलने पड़ सकते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘अगर इन खिलाड़ियों को नियंत्रित ब्रेक नहीं दिया गया तो इनको नुकसान ही होगा. बेशक ब्रेक के बारे में चयनकर्ता मुख्य कोच (राहुल द्रविड़) के साथ बात करके फैसला करेंगे.’

यह देखना होगा कि ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को आईपीएल के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज के लिए भारतीय टीम में जगह मिलती है या फिर उन्हें सीधे आयरलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए चुना जाता है. हार्दिक फिलहाल आईपीएल की नई टीम गुजरात टाइटंस का नेतृत्व कर रहे हैं.

Tags: Bio Bubble, COVID 19, Cricket news, India vs South Africa



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixty eight  ⁄    =  34