चीन ने अपने अंतरिक्ष स्टेशन तक जरूरी सामग्री ले जाने के लिए यान प्रक्षेपित किया


बीजिंग. चीन (China) ने अपने निर्माणाधीन अंतरिक्ष स्टेशन तियांगोंग तक जरूरी सामानों की आपूर्ति के लिए सोमवार को मानव रहित मालवाहक अंतरिक्ष यान तियानझोउ-3 (Tianzhou-3) को सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया. चीन के अंतरिक्ष स्टेशन का काम अगले साल तक पूरा होने वाला है. चाइना मैन्ड स्पेस एजेंसी (सीएमएसए) ने कहा है कि तियानझोउ-3 को ले जाने वाले लॉन्ग मार्च-7 वाई4 रॉकेट को दक्षिणी हैनान प्रांत में वेनचांग अंतरिक्ष यान प्रक्षेपण स्थल से प्रक्षेपित किया गया. सीएमएसए ने कहा कि तियानझोउ-3 अंतरिक्ष स्टेशन के कोर मॉड्यूल तियानहे और तियानझोउ-2 कार्गो क्राफ्ट के साथ जुड़ेगा. तियानझोउ श्रृंखला मालवाहक अंतरिक्ष यान है जो अंतरिक्ष स्टेशन के लिए सामग्री की आपूर्ति करता है.

तियानझोउ-2 कार्गो क्राफ्ट तियानहे के पिछले डॉकिंग पोर्ट से 18 सितंबर को अलग हो गया और इसे सामने के डॉकिंग पोर्ट के साथ जोड़ा गया. सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ के अनुसार सीएमएसए ने कहा है कि तियानहे और तियानझोउ-2 का संयोजन अच्छी स्थिति में है, तियानझोउ-3 कार्गो क्राफ्ट और इंसानों को ले जाने वाला अगला मिशन शेनझोउ-13 अंतरिक्ष यान के साथ जुड़ने की प्रतीक्षा कर रहा है.

मिशन के साथ सबसे लंबे समय तक यानि 90 दिन बिताने वाले तीन चीनी अंतरिक्ष यात्री 17 सितंबर को धरती पर लौट आए. तीनों ने अंतरिक्ष स्टेशन के निर्माण में तीन महीने गुजारे. उन्होंने पृथ्वी से लगभग 380 किलोमीटर ऊपर चीन के अंतरिक्ष स्टेशन पर तियानहे मॉड्यूल में 90 दिन गुजारे.

ये भी पढ़ें: 600 दिन में एक भी विदेश दौरा नहीं, फोन पर बात, क्या बीमार हैं चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग?

हालिया मंगल और पूर्व में चंद्र अभियानों के बाद अंतरिक्ष परियोजना को चीन के लिए बेहद खास और रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण माना जा रहा है. निचली कक्षा में स्थित अंतरिक्ष स्टेशन के जरिए चीन लगातार दुनिया पर नजर रख सकेगा. निर्माण कार्य पूरा होने के बाद चीन इकलौता ऐसा देश होगा जिसके पास अपना अंतरिक्ष स्टेशन होगा जबकि पुराना हो रहा अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) कई देशों की भागीदारी वाली परियोजना थी.

Tags: Beijing, China, Hindi news, International news, Space, Trending news





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  four  =  two