Neeraj kumar of patna pirates says playing kabaddi was to get government job earlier but pro kabaddi league changed mentality


नई दिल्ली. प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) का आगामी सीजन 22 दिसंबर से शुरू हो रहा है. इसके लिए सभी टीमों के खिलाड़ी तैयारियों में जुटे हैं. उनकी कोशिश अपनी टीम को खिताब दिलाने की होगी. तीन बार की चैंपियन टीम पटना पायरेट्स के डिफेंडर नीरज कुमार (Neeraj Kumar) भी अगले सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन करना चाहते हैं. उन्होंने न्यूज18 हिंदी डॉट कॉम  से शनिवार को एक्सक्लूसिव बातचीत की. नीरज ने इस दौरान कहा कि शुरुआत में लोग शौक या सरकारी नौकरी पाने के लिए कबड्डी जैसे खेल को चुनते थे लेकिन अब सोच बदली है.

5 फीट 7 इंच लबे नीरज कुमार ने बातचीत में कहा, ‘प्रो कबड्डी लीग के अगले सीजन के लिए काफी अच्छी तैयारियां की हैं. कुछ वक्त पहले तक सभी कुछ रुक गया था (कोरोना वायरस की वजह से), इसलिए सबसे पहले तो हमने फिटनेस पर काम किया है. उसके बाद से लगातार ट्रेनिंग की. अब लीग के लिए तैयार हैं और अपनी तरफ से शानदार प्रदर्शन करेंगे.’

इसे भी देखें, पटना पायरेट्स ने सबसे अधिक 3 बार खिताब जीता, अन्य कोई टीम नहीं कर सकी है ऐसा

उन्होंने आगे कहा, ‘कबड्डी को पहले देहात का खेल माना जाता था. इसे गांव के लोग ज्यादा खेलते थे. इतना बड़ा मंच (प्रो कबड्डी लीग) पहले कभी नहीं मिला था लेकिन लोग इसे खेलते थे कि हम अच्छा प्रदर्शन करें, एक अच्छे खिलाड़ी बनें. अच्छी नौकरी के लिए फिर कोशिश करें. पहले इसी बारे में लोग सोचते थे लेकिन जब से प्रो कबड्डी जैसा मंच मिला है, अब हर कोई इसमें अपना करियर बनाना चाहता है.’

neeraj kumar kabaddi

कोरोना के कारण पिछले साल प्रो कबड्डी लीग का आयोजन नहीं हो सका था. नीरज कुमार ने कहा कि सभी खिलाड़ियों ने पहले फिटनेस पर ध्यान दिया और फिर ट्रेनिंग शुरू की.

हरियाणा से ताल्लुक रखने वाले नीरज ने कहा, ‘कबड्डी को इतना ऊंचा देखने पर काफी खुशी होती है क्योंकि हम इससे जुड़े हैं. हम भी कबड्डी खेल रहे हैं. काफी खुशी मिलती है कि लोगों का नजरिया बदला है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘पहले कबड्डी पर लोग ज्यादा ध्यान भी नहीं देते थे. लोग शौक के तौर पर या नौकरी पाने के लिए इसे खेलते थे. जॉब पाने के लिए इस पर ध्यान देते थे लेकिन प्रो कबड्डी लीग जैसे मंच को देखते हुए अब लोग खुद पर मेहनत कर रहे हैं, इसमें करियर बनाना चाहते हैं.’

इसे भी देखें, Pro Kabbadi: फाइनल में पहुंचकर भी ‘दबंग’ रहे थे ‘दिल्ली’ से दूर, इस बार 5 खिलाड़ी लगाएंगे बेड़ा पार

उन्होंने युवाओं को संदेश देते हुए कहा, ‘नए टैलेंट के लिए प्रो कबड्डी में एक ग्रुप बनाया हुआ है. हमारी कोशिश रहती है कि 18 से 22 साल के खिलाड़ी आगे आएं, उनको तैयार करें. वे अच्छी मेहनत करें. मौके का फायदा उठाएं और एक टीम से जुड़ें, अच्छा खेलें और नाम कमाएं.’ नीरज ने पीकेएल में अब तक कुल 39 मैच खेले हैं. इस दौरान उन्होंने कुल 72 अंक हासिल किए हैं. लीग के 7वें सीजन में उन्होंने दमदार प्रदर्शन किया था और कुल 59 हासिल किए थे. खास बात है कि उनका टैकल का स्ट्राइक रेट 41 प्रतिशत से भी ज्यादा का है.

क्रिकेट पर ज्यादा फोकस के बारे में उन्होंने कहा, ‘हम इस पर ध्यान नहीं देते हैं. हमारा फोकस पूरी तरह अपने खेल पर होता है, ट्रेनिंग पर होता है. कोई दूसरे खेल या खिलाड़ी पर ध्यान देने के लिए नहीं सोचते हैं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘अब अगले सीजन में अच्छा प्रदर्शन करेंगे और जीत दिलाने की कोशिश करेंगे.’

Tags: Kabaddi, Neeraj kumar, Pro Kabaddi News, Sports news





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen  ⁄    =  three