India never won a Test series in South africa Will Virat Kohli change history


नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम 26 दिसंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (India vs South Africa) पहला टेस्ट मैच खेलेगी. तीन टेस्ट मैचों की यह सीरीज टीम इंडिया और कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के लिए बेहद अहम है. दक्षिण अफ्रीका ही इकलौता देश है जहां भारतीय टीम (Team India) कभी सीरीज नहीं जीत पाई है. कप्तानी विवाद भूलकर कोहली अफ्रीका में भारतीय टीम का इतिहास बदलना चाहेंगे. इस सीरीज में वनडे-टी20 कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma), रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल और शुभमन गिल उपलब्ध नहीं है. इसके बावजूद भारतीय टीम अफ्रीका की धरती पर उसे हराने में सक्षम है.

टीम इंडिया मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में पहली बार 1992 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई थी. चार टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत को 1-0 से हार का सामना करना पड़ा. हालांकि भारत स्विंग, गति और उछाल लेती पिचों पर तीन टेस्ट ड्रॉ कराने में सफल रहा. इस दौरे के पहले टेस्ट मैच में प्रवीण आमरे ने डेब्यू किया था और पहली पारी में ही शानदार शतक भी जड़ा.

दूसरी बार सचिन तेंदुलकर की कप्तानी में 1997 में भारत ने अफ्रीका का दौरा किया. पहला टेस्ट राहुल द्रविड़ की बदौलत ड्रॉ रहा. द्रविड़ ने जोहानिसबर्ग में खेले गए इस मुकाबले में पहली पारी में 148 और दूसरी पारी में 81 रन बनाए. भारत को दूसरे टेस्ट मैच में 282 और तीसरे टेस्ट मैच में 328 रनों के करारी शिकस्त मिली. भारत ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 0-2 से गंवाई. 20 विकेट लेने वाले एलन डोनाल्ड मैन ऑफ द सीरीज रहे.

Tags: Cricket news, Ind vs sa, India vs South Africa, Rohit sharma, South africa, Virat Kohli





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  three  =  one