Sourav Ganguly says Rohit Sharma was best choice as odi and t20i captain of indian cricket team – सौरव गांगुली विवाद के बाद बोले


नई दिल्ली. अनुभवी ओपनर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को वनडे और टी20 फॉर्मेट में भारतीय क्रिकेट टीम का अगला कप्तान नियुक्त किया गया है. इस घोषणा के बाद क्रिकेट बिरादरी से मिली-जुली प्रतिक्रिया मिलीं. जिस बात से फैंस हैरान हुए, वह इस बात से कि कप्तान बदलने की घोषणा अचानक से की गई. हालांकि, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने इस फैसले का समर्थन किया है और कहा है कि रोहित शर्मा इस भूमिका के लिए सबसे अच्छी पसंद (Best Choice) थे.

रोहित शर्मा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में पूर्णकालिक टी20 कप्तान की भूमिका निभाई. उन्होंने अपने कार्यकाल की शुरुआत सकारात्मक रूप से की क्योंकि मेजबान टीम ने सीरीज के तीनों टी20 मैच जीते. सौरव गांगुली ने कहा कि शर्मा इस पद के हकदार हैं. गांगुली ने साथ ही पहले दावा किया था कि विराट कोहली को टी20 कप्तानी नहीं छोड़ने के लिए उन्होंने अनुरोध किया था लेकिन विराट ने उनके दावों से इनकार किया.

इसे भी देखें, कपिल देव की विराट कोहली से अपील, पहले देश के बारे में सोचें, गांगुली को भी दी सलाह

बीसीसीआई के मौजूदा अध्यक्ष गांगुली ने ‘बैकस्टेज विद बोरिया’ कार्यक्रम में कहा, ‘एक कप्तान के रूप में उन्होंने (रोहित) जो किया है, उसके कारण वह इस पद के हकदार हैं. मुंबई के साथ 5 खिताब (IPL में) और दबाव में उनकी क्षमता नजर आती है. एक बार जब विराट ने फैसला कर लिया कि वह टी20 में भारत की कप्तानी नहीं करना चाहते तो रोहित ही सबसे अच्छे विकल्प थे. उन्होंने भारत में न्यूजीलैंड को 3-0 से हराकर अच्छी शुरुआत भी की. उम्मीद है कि हम अगले साल भारत के लिए इस साल की तुलना में बेहतर परिणाम देखेंगे.’

कोहली के हटने के पीछे प्रमुख कारणों में से एक यह भी है कि भारत उनकी कप्तानी में कोई भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत पाया. गांगुली ने कहा कि भारत ने 2017 चैंपियंस ट्रॉफी और 2019 विश्व कप में अच्छा खेल दिखाया लेकिन हाल ही में टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup- 2021) में टीम इंडिया का प्रदर्शन निराशाजनक रहा. उन्होंने आगे कहा कि टीम मेगा इवेंट में अपनी पूरी क्षमता से नहीं खेली.

Tags: Cricket news, India vs South Africa, Rohit sharma, Sourav Ganguly, Virat Kohli





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ten  ⁄  one  =