women tennis player arrested in alleged match fixing case of french open 2020 – News18 हिंदी


पेरिस. मैच फिक्सिंग का भूत अब टेनिस के पीछे पड़ा है और इससे जुड़े मामले में एक टेनिस खिलाड़ी को गिरफ्तार किया गया है. पेरिस अभियोजन पक्ष के कार्यालय ने शुक्रवार को कहा कि पिछले साल मैच फिक्सिंग में शामिल होने के संदेह में एक टेनिस खिलाड़ी को फ्रेंच ओपन ग्रैंडस्लैम के दौरान गिरफ्तार किया गया है. फ्रांस के अखबार ‘ली पैरिसिएन’ ने सबसे पहले यह खबर दी.

रिपोर्ट के मुताबिक, यह खिलाड़ी 765वीं रैंकिंग पर काबिज रूस की याना सिजिकोवा है. अभियोजक के कार्यालय ने एसोसिएटेड प्रेस को बताया कि एक अंतरराष्ट्रीय महिला खिलाड़ी हिरासत में थी लेकिन उसके नाम का खुलासा नहीं किया. कार्यालय के अनुसार खिलाड़ी को गुरुवार को रात को गिरफ्तार किया गया. उसे सितंबर 2020 में ‘खेल में रिश्वत लेने और संगठित धोखाधड़ी’ करने के आरोपों में गिरफ्त में लिया गया.

फ्रांस पुलिस की सट्टेबाजी धोखाधड़ी और मैच फिक्सिंग में विशेषज्ञता इकाई ने पिछले साल अक्टूबर में जांच शुरू की थी. यह इकाई पहले बेल्जियम अधिकारियों के साथ भी पेशेवर टेनिस के निचले स्तर के संदिग्ध फिक्स मैचों की जांच में काम कर चुकी है. कार्यालय ने कहा कि यह जांच रोलां गैरां में पिछले साल एक मैच में संदेह पर केंद्रित है. हालांकि उसने इस मैच की जानकारी नहीं दी.

इसे भी पढ़ें, नाओमी ओसाका तो घर लौट गईं, मगर भविष्‍य के उन जैसे तमाम खिलाड़ियों का क्या?

जर्मनी के अखबार ‘डाई वेल्ट’ और फ्रांस के खेल दैनिक अखबार ‘ला इक्विपे’ ने कहा कि 30 सितंबर को महिला युगल के पहले दौर के मैच में सट्टेबाजी पैटर्न का संदेह हुआ था. उस दिन सिजिकोवा और उनकी जोड़ीदार अमेरिका की मैडिसन ब्रेंगले रोमानिया की एंड्रिया मीटू और पैट्रिसिया मारिया टिग के खिलाफ कोर्ट पर थीं. कोरोना वायरस महामारी के कारण पिछले साल फ्रेंच ओपन में देरी हुई थी जिससे यह सितंबर और अक्टूबर के शुरू में खेला गया था.

Tags: French Open, Sports news, Tennis





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

six  ⁄  1  =