Free Video Downloader

Earthquake in Indian cricket as Rohit Sharma becomes ODI captain and Virat Kohli removed


Podcast Suno Dil Se: भारतीय क्रिकेट के वक्त का पहिया जोर से घूम रहा है. टी20 वर्ल्ड कप में खराब खेल के बाद टीम का हेड कोच बदला और फिर व्हाइट बॉल क्रिकेट का कप्तान भी. खिलाड़ियों के बदलने का दौर भी जारी है. कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket Team) में भूचाल सा है, जिसमे कोई इधर गिरा-कोई उधर गिरा. टीम इंडिया (Team India) में जितना कुछ हाल में बदला है, उतना पिछले कुछ वर्षों मे भी नहीं बदला. संजय बैनर्जी पॉडकास्ट ‘सुनो दिल से’ में इन्हीं बदलाव पर बात कर रहे हैं.


भारतीय क्रिकेट के वक्त का पहिया अब बहुत जोर से घूम रहा है. टीम इंडिया में जितना कुछ हाल में बदला है, उतना पिछले कुछ वर्षों मे भी नहीं बदला. रवि शास्त्री का टेनयोर खत्म हो चुका था और उनका बदलना तय था. राहुल द्रविड़ हेड कोच बनेंगे, इस पर लोगों को शक था, क्योंकि इससे पहले अनिल कुंबले का क्या हश्र हुआ वह सबने देखा था. दक्षिण के बड़े क्रिकेटर मसलन कुंबले, जवागल श्रीनाथ, द्रविड, आमतौर पर चुपचाप अपने काम से मतलब रखते हैं. ऐसे मे द्रविड़ का मुख्य कोच का ओहदा स्वीकार करना थोड़ा चौंका तो गया था. वक्त बीतने के साथ ऐसा लगा कि शायद बीसीसीआई और द्रविड़ इस बात पर पहले से ही सहमत थे कि व्हाइट बॉल का कप्तान बदलना जरूरी है. पिछले हफ्ते इसी पॉडकास्ट में हमने इस बात का जिक्र किया था और आखिर वही हुआ भी.

जिस समय भारतीय क्रिकेट को सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में चलाया जा रहा था विराट कोहली (Virat Kohli) की तूती बोलती थी, रवि शास्त्री और उनकी जोड़ी सुपर हिट थी. उसी दौरान कोहली कई बार जिद पर अड़ते रहे और कामयाब होते रहे. बहरहाल अब भारतीय टीम मे दो अलग-अलग कप्तान हैं, टेस्ट के कप्तान विराट कोहली रहेंगे, जबकि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) टी-20 और वनडे के कप्तान होंगे. बीसीसीआई चाहता था की कोहली खुद वक्त की नजाकत को समझते हुए वनडे मे भी कप्तानी छोड़ दें, लेकिन कोहली शायद इसके लिए तयार नहीं थे. बतौर खिलाड़ी और बतौर कप्तान विराट की योग्यता पर किसी को शक नहीं था. दोनों मामले में कोहली सचमुच ‘विराट’ थे. लेकिन सच यह भी है की उनकी कप्तानी में भारत ने न ही कोई आईसीसी ट्रॉफी जीती, यही नहीं रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान के तौर पर भी वह खिताब से वंचित ही रहे. फिलहाल रोहित शर्मा फूल टाइम कप्तान के तौर पर अपने करियर की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका दौरा से करेंगे और 2023 के वनडे वर्ल्ड कप तक कप्तानी संभालेंगे.

इस बीच राहुल द्रविड़ के लिए हेड कोच का पहला औपचारिक एसाइनमेंट कामयाब रहा. न्यूजीलैंड का टी20 में पूरी तरह सफाया करने के बाद टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज में भी 1-0 से जीत हासिल की. रोहित ने टी-20 में और विराट ने टेस्ट में भारत को कप्तान के रूप में सफलता दिलाई. कानपुर का पहला टेस्ट भारत जीतते-जीतते रह गया, लेकिन मुंबई में धमाकेदार जीत दर्ज की. वानखेडे का दूसरा टेस्ट न केवल भारत के नजरिये से शानदार रहा, बल्कि हार के बावजूद न्यूजीलैंड के हिसाब से भी महत्वपूर्ण रहा. मयंक अग्रवाल के शतक समेत दोनों पारियों में की गयी उनकी बल्लेबाजी काफी मायने रखती है.

दूसरी ओर न्यूजीलैंड मुंबई मे मिली शिकस्त को कभी भूल नहीं सकेगा. एजाज पटेल का पहली पारी में सभी विकेट लेकर इतिहास बनाना सुर्खियों में रहा. टेस्ट की किसी एक पारी में सभी 10 विकेट लेने वाले वह इतिहास के सिर्फ तीसरे गेंदबाज हैं. उनसे पहले इंग्लैंड के जिम लेकर और फिर भारत के अनिल कुंबले यह कारनामा दिखा चुके हैं.

इधर भारत को इसी महीने दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना है जिसके लिए दोनों देशों ने अपनी टीमों की घोषणा कर दी है. दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिंएंट ‘ओमिक्रॉन’ लगातार फैल रहा है, ऐसे में एक बार तो लगा कि शायद यह दौरा रदद हो जाएगा, लेकिन दोनों बोर्ड ने होशियारी दिखाते हुए और बेहतर इंतजाम करने के इरादे से इसे एक हफ्ता बढ़ा दिया. साथ ही दौरा छोटा करते हुए टी-20 सीरीज का आयोजन फिलहाल टाल दिया है. अब दौरे पर तीन टेस्ट और इतने ही वनडे मैच खेले जाएंगे.

भारत ने अपनी टीम में रहाणे को शामिल नहीं किया है जिनका बल्ला खामोश चल रहा था. साथ ही उनकी जगह रोहित शर्मा को टेस्ट टीम का उपकप्तान भी बना दिया गया है. इसके फिट नहीं रहने के कारण टीम में रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल और शुभमन गिल को जगह नहीं मिली है. इसके विपरीत खराब फॉर्म के बावजूद ईशांत शर्मा और चेतेश्वर पुजारा को टीम में बरकरार रखा गया है जबकि हनुमा विहारी की वापसी हुई है.

आज के इस पॉडकास्ट (Podcast Suno Dil Se) में इतना ही , अगले हफ्ते क्रिकेट जगत की सरगर्मियाँ समेटे आपकी खिदमत मे फिर हाजिर होंगे, अनुमति दीजिए संजय बैनर्जी को और चलते रहिए न्यूज़18 के साथ. नमस्कार



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  one  =  ten