Carolina Marin pulls out of World Championships badminton


नई दिल्ली. तीन बार की चैम्पियन बैडमिंटन खिलाड़ी कैरोलिना मारिन की प्रतिस्पर्धी प्रतियोगिता में वापसी में और देरी होगी, क्योंकि उन्होंने घुटने की चोट के ठीक नहीं होने के कारण विश्व चैम्पियनशिप से हटने का फैसला किया है. रियो ओलंपिक की गोल्ड मेडल विजेता ने स्विस ओपन के दौरान लगी चोट के कारण इस साल ऑल इंग्लैंड चैम्पियनशिप से हटने का फैसला किया था. कैरोलिना ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में भी हिस्सा नहीं लिया था.

मारिन (28 वर्ष) ने स्पेन के हुलेवा में शुरू होने वाली विश्व चैम्पियनशिप में वापसी की योजना बनाई थी. स्पेन की मारिन ने अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किए गए वीडियो में कहा, ‘‘मैंने सत्र की वास्तव में अच्छी शुरूआत की थी, मैंने पांच में से चार टूर्नामेंट जीते थे. मैं आत्मविश्वास से भरी थी और शारीरिक रूप से काफी अच्छा महसूस कर रही थी लेकिन एक गलत मूवमेंट ने मेरा घुटना पूरी तरह से तोड़ दिया.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मानसिक रूप से काफी मुश्किल हो रही है, मेरी प्राथमिकता हमेशा ही स्वास्थ्य रहना है. इसलिए मेरी टीम और मैंने फैसला किया कि हुलेवा विश्व चैम्पियनशिप में नहीं खेलेंगे.’’

वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी तीन गोल्ड जीत चुकी हैं
कैरोलिना मारिन का प्रदर्शन इंटरनेशनल इवेंट में बेहद शानदार रहा है. उन्होंने वर्ल्ड चैंपियनशिप में तीन बार 2014, 2015 और 2017 में गोल्ड मेडल जीता है. वे भारतीय ओपन बैडमिंटन में भी भाग लेती हैं. 27 साल की मारिन ने जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में 2011 में ब्रॉन्ज मेडल जीता था. इस पूर्व नंबर-1 खिलाड़ी के अलावा कोई अन्य महिला खिलाड़ी तीन बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल नहीं जीत सकी है.

2019 में भी चोटिल हुई थीं
कैरोलिना मारिन को 2019 में भी चोट लगी थी. इसके कारण वे महीनों तक तक कोर्ट से दूर रही थीं. इस साल उन्होंने पांच टूर्नामेंट खेले हैं और पांचों के फाइनल में पहुंची थीं, जिसमें से चार में उन्होंने खिताब भी जीता था. ऐसे में वे टोक्यो ओलंपिक मेडल की रेस में थीं. लेकिन करियर रिकॉर्ड की बात की जाए तो उन्होंने 410 मुकाबले जीते हैं. 116 में उन्हें हार मिली है.

Tags: Badminton, Carolina Marin, World championships





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nine  ⁄  one  =