लुकाकु ने अपना गोल एरिक्सन के नाम किया, कहा-क्रिस आई लव यू, देखें वीडियो- euro cup 2020 Romelu Lukaku Dedicates Goal Against Russia To Christian Eriksen watch video – News18 हिंदी


नई दिल्ली. रोमेलु लुकाकु के दो गोल की मदद से बेल्जियम ने यूरोपीय फुटबॉल चैंपिय​नशिप के अपने पहले मैच में रूस को 3-0 से हराया. लुकाकु ने अपना पहला गोल दागने के बाद डेनमार्क के खिलाड़ी क्रिस्टियन एरिक्सन के लिये भावुक संदेश भी भेजा. वह 10वें मिनट में गोल करने के बाद टेलीविजन कैमरा के पास गये और उसे दोनों हाथों से पकड़कर कहा, “क्रिस, क्रिस, आई लव यू.” लुकाकु इटली की टीम इंटर मिलान में एरिक्सन के साथी हैं. एरिक्सन डेनमार्क और फिनलैंड के बीच मैच के दौरान मैदान पर बेहोश हो गये थे. इस कारण यह मैच 90 मिनट तक रुका रहा था. बेल्जियम का मैच शुरू होने तक यह समाचार मिल गया था कि एरिक्सन की स्थिति स्थिर है.

सितारों से सजी बेल्जियम की टीम पूरे मैच में रूस पर हावी रही. लुकाकु ने मैच के 10वें मिनट में ही गोल दाग दिया. बेल्जियम की तरफ से स्थानापन्न थामस मुनीर ने 34वें मिनट में दूसरा गोल किया. लुकाकु ने 26,264 दर्शकों के सामने 88वें मिनट में तीसरा गोल करके शीर्ष रैंकिंग के बेल्जियम की बड़ी जीत सुनिश्चित की. 28 वर्षीय लुकाकु बेल्जियम की तरफ से 94 इंटरनेशनल मैचों में 62 गोल दाग चुके हैं. मैच शुरू होने से पहले बेल्जियम के ​खिलाड़ियों ने एक घुटने के बल पर बैठकर नस्लवाद के खिलाफ अपना समर्थन भी व्यक्त किया.

https://www.youtube.com/watch?v=amDPgrIKvMo

एरिक्सन के मैदान से हटने के बाद डेनमार्क हारा

फिनलैंड ने डेनमार्क को 1-0 से हराया. पहले हॉफ के अंतिम क्षणों में एरिक्सन मैदान पर गिर गये और उन्हें तुरंत उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा जिसके कारण लगभग 90 मिनट तक खेल रुका रहा. जब यह मैच दोबारा शुरू हुआ तो पोजनपालो ने 60वें मिनट में फिनलैंड को बढ़त दिला दी. उन्होंने जेरे उरोनेन के क्रास पर हेडर से यह गोल किया. डेनमार्क के गोलकीपर कास्पर शमाइकल ने गेंद पर हाथ लगाया लेकिन वह उसे रोक नहीं पाये. डेनमार्क ने पूरे मैच में दबदबा बनाये रखा लेकिन फिनलैंड को गोल करने का केवल एक मौका मिला और वह इसे भुनाने में सफल रहा.

यह भी पढ़ें: 

मैदान पर एक दिन में 2 दिल दहला देने वाले हादसे, एरिक्‍सन-डू प्‍लेसी अस्‍पताल में, जानें दोनों का हेल्‍थ अपडेट

French Open: बारबरा क्रेजिकोवा बनीं चैंपियन, 40 साल बाद चेक रिपब्लिक को मिला खिताब

डेनमार्क ने छह शॉट गोल पर लगाये लेकिन उसे हर बार नाकामी मिली. डेनमार्क को सबसे अच्छा मौका तब मिला जब उसे 74वें मिनट में पेनल्टी मिली लेकिन रेडेकी ने अपने बायीं तरफ डाइव लगाकर पियरे एमिल हॉबजर्ग के शॉट को रोक दिया. फिनलैंड किसी बड़े टूर्नामेंट में पदार्पण कर रहा था लेकिन उसके देश की फुटबॉल इतिहास में सबसे बड़ी जीत से अधिक चर्चा एरिक्शन के अचानक बेहोश होने की रही.

Tags: Euro cup, Euro Cup 2020, Football news, Sports news





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighty  ⁄  ten  =