महिला खिलाड़ी के वनपीस पर मचा था जमकर बवाल, ध्‍यान भंग होने पर की गई बैन की मांग


नई दिल्‍ली. टेनिस दुनिया के साल के तीसरे ग्रैंडस्‍लैम विंबलडन (Wimbledon) का आगाज होने में अब सिर्फ एक ही दिन बचा है. पूरी दुनिया की नजर इस टूर्नामेंट पर है. यह ग्रैंडस्‍लैम अपने कई अलग नियमों को लेकर भी खास है, खासकर अपने ड्रेस कोड को लेकर. इस टूर्नामेंट में उतरने वाले सभी खिलाड़ियों को सफेद रंग के ही खास कपड़े पहनने होते हैं. इस ड्रेस कोड की वजह से कई बार बवाल तक मचा है.

आज से करीब 36 साल पहले इस टूर्नामेंट में एक महिला खिलाड़ी के वनपीस पर जमकर बवाल मचा था. दिन था 27 जून 1985. जब अमेरिका की टेनिस खिलाड़ी ऐनी व्‍हाइट के वनपीस पर बवाल मच दिया. दरअसल ऐनी पांचवीं वरीय खिलाड़ी पाम श्रीवर के खिलाफ पहला राउंड खेल रही थी.

बॉडी सूट पहनकर खेलने उतरी थीं ऐनी

उन्‍होंने ट्रैकसूट में वार्मअप किया और खेलने के लिए ट्रैकसूट उतार दिया. ऐनी ने सफेद रंग का वनपीस लाइक्रा बॉडी सूट पहन रखा था. जिसके पैर में वार्मर था. उनके इस आउटफिट ने काफी दर्शकों और फोटोग्राफर्स का ध्‍यान खींचा. उनके इस ड्रेस को देखकर हर कोई हैरान रह गया. एक सेट पर मैच बराबरी पर रहने के साथ ही खराब रोशनी के कारण खेल को रोक दिया गया और टूर्नामेंट रेफरी एलेन मिल्‍स ने ऐनी से कहा कि वह अगले दिन सही कपड़े पहनकर आएं.

यह भी पढ़ें : 

Euro 2020: डेनमार्क 2004 के बाद पहली बार क्वार्टर फाइनल में, वेल्स को 4-0 से हराया

मो फराह टोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई करने से चूके, 4 बार जीत चुके हैं गोल्ड मेडल

टूर्नामेंट अधिकारियों से की गई थी बैन करने की मांग

यह अमेरिकन खिलाड़ी अगले दिन सही कपड़े पहनकर भी आईं और तीसरा सेट हार गई. बाद में उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें बिल्‍कुल अंदाजा नहीं था कि यह काफी विवादित हो जाएगा. वही पाम ने कहा कि ऐनी का आउटफिट ध्‍यान भंग कर रहा था और टूर्नामेंट के अधिकारियों से उन्‍हें इस आउटफिट को फिर कभी पहनने से बैन करने के लिए कहा गया था.

Tags: Sports news, Tennis, Wimbledon





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifty four  ⁄    =  6