Free Video Downloader

कोपा अमेरिका जीतकर अर्जेंटीना के साथ अपना सबसे बड़ा सपना पूरा करना चाहते हैं मेसी


साओ पाउलो. लियोनल मेसी ने अपने शानदार करियर के दौरान बार्सिलोना की तरफ से प्रत्येक खिताब जीता है, लेकिन अर्जेंटीना के लिए कोई बड़ा खिताब जीतने का उनका सपना अब भी अधूरा है. मेसी अब 33 साल के हैं और उनके पास कोपा अमेरिका फुटबॉल टूर्नामेंट जीतकर यह सपना पूरा करने का संभवत: आखिरी मौका है. यह स्टार फुटबॉलर इस बार अपने अधूरे सपने को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है. अर्जेंटीना कोपा अमेरिका में अपने अभियान की शुरुआत सोमवार को रियो डि जेनेरियो में चिली के खिलाफ करेगा. कोलंबिया और अर्जेंटीना को सह मेजबान से हटाए जाने के बाद ब्राजील को अंतिम क्षणों में इस टूर्नामेंट की मेजबानी सौंपी गयी थी.

मेसी ने रियो में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ”मैं हमेशा अपनी टीम के लिए उपलब्ध रहता हूं. मेरा सबसे बड़ा सपना अपनी राष्ट्रीय टीम के साथ खिताब जीतना है.” उन्होंने कहा, ”मैं कई बार इसके करीब पहुंचा. ऐसा नहीं हो पाया लेकिन मैं प्रयास जारी रखूंगा. मैं इस सपने को पूरा करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ूंगा.”

अर्जेंटीना को हालांकि अपनी घरेलू सरजमीं पर खेलने का मौका नहीं मिलेगा. अर्जेंटीना और कोलंबिया पहले कोपा अमेरिका के संयुक्त मेजबान थे, लेकिन बाद में विभिन्न कारणों से उन्हें मेजबानी से हटा दिया गया और ब्राजील को इसके आयोजन की जिम्मेदारी सौंपी गई. इससे लियोनल मेसी और उनकी टीम को कुछ फायदा भी मिल सकता है, क्योंकि उन पर स्वदेश में खेलने का दबाव नहीं रहेगा.

अर्जेंटीना कोपा अमेरिका 2019 में तीसरे स्थान पर रहा था, लेकिन लियोनेल स्कालोनी के कोच बनने के बाद टीम ने काफी सुधार किया है. अर्जेंटीना की टीम अब पूरी तरह से मेसी पर ही निर्भर नहीं है और उसके पास अन्य मैच विजेता खिलाड़ी भी हैं. टूर्नामेंट में पांच-पांच टीमों के दो ग्रुप बनाए गए हैं. ग्रुप ए में अर्जेंटीना, बोलिविया, उरुग्वे, चिली और पराग्वे जबकि ग्रुप बी में ब्राजील, कोलंबिया, वेनेजुएला, इक्वाडोर और पेरू शामिल हैं.

कोपा अमेरिका रविवार को शुरू हो चुका है. कोलंबिया और इक्वाडोर के अलावा वेनेजुएला और ब्राजील के बीच मैच खेला जा चुका है. कोलंबिया ने एडविन कारडोना के गोल की मदद से कोपा अमेरिका फुटबॉल टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में इक्वाडोर को 1-0 से पराजित किया. कारडोना ने 42वें मिनट में यह महत्वपूर्ण गोल किया जो आखिर में निर्णायक साबित हुआ. इन दोनों टीमों के बीच विश्व कप क्वॉलिफाईंग का मैच सात महीने पहले इक्वाडोर ने 6-1 से जीता था.

वहीं, ब्राजील ने वेनेजुएला को 3-0 से हराकर कोपा अमेरिका फुटबॉल टूर्नामेंट में खिताब बरकरार रखने के अपने अभियान की शानदार शुरुआत की. ब्राजीलिया के माने गरिंचा स्टेडियम में रविवार को खेले गेय मैच में ब्राजील की तरफ से मा​रक्विन्होस, नेमार और गैब्रियल बारबोसा ने गोल किए. इससे एक दिन पहले वेनेजुएला के कई खिलाड़ियों को कोविड-19 के लिए पॉजिटिव पाया गया था. वेनेजुएला के आठ खिलाड़ियों को शनि​वार को कोविड-19 के लिए पॉजिटिव पाया गया था और उसे आनन फानन में 15 नए खिलाड़ियों को बुलाना पड़ा था. इसका असर मैदान पर भी साफ दिखा. ब्राजील ने कुछ मौके भी गंवाए लेकिन वेनेजुएला से उसे खास चुनौती नहीं मिली.

Tags: Argentina, Copa america, Football news, Lionel Messi





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ninety six  ⁄    =  12