Copa America: टूर्नामेंट के आयोजन की आलोचना करना कोच को पड़ा भारी, लगा लाखों रुपये का जुर्माना


साओ पाउलो. कोपा अमेरिका (Copa America) के आयोजन की निंदा करना एक कोच को भारी पड़ गया. आलोचना करने पर कोच पर लाखों रुपये का जुर्माना लगा दिया गया है. दक्षिण अमेरिकी फुटबॉल परिसंघ ( कोनमेबोल) ने कोपा अमेरिका के आयोजन की निंदा करने वाले ब्राजील के कोच टिटे पर पांच हजार डॉलर यानी करीब साढ़े तीन लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. इससे एक सप्ताह पहले ही कोरोना महामारी के बीच टूर्नामेंट के आयोजन की आलोचना करने वाले बोलिविया के एक खिलाड़ी पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.

टिटे ने 12 जून को एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि अजीबोगरीब तरीके से कोपा अमेरिका ब्राजील में कराने का फैसला लिया गया है. टूर्नामेंट मूल रूप से कोलंबिया और अर्जेंटीना में होना था, लेकिन दोनों के पीछे हटने के बाद ऐन मौके पर ब्राजील को मेजबानी सौंपी गई. कोनमेबोल ने कहा कि दोबारा आयोजकों की निंदा करने पर टिटे को नई सजा मिल सकती है.

उरूग्वे और पराग्वे नॉकआउट में 

उरूग्वे और पराग्वे ने ग्रुप ए के मैच जीतकर कोपा अमेरिका फुटबॉल के नॉकआउट चरण के लिये क्वालीफाई कर लिया. उरूग्वे ने बोलिविया को 2-0 से हराकर पहली जीत दर्ज की. वहीं पराग्वे ने चिली को इसी अंतर से हराया. अर्जेंटीना ग्रुप ए में सात अंक लेकर शीर्ष पर है जबकि पराग्वे के छह अंक है. चिली के पांच और उरूग्वे के चार अंक है. बोलिविया खाता नहीं खोल सका.

यह भी पढ़ें: 

ISSF World Cup: सौरभ चौधरी ने जीता कांस्य पदक, मनु भाकर ने किया निराश

Tokyo Olympic: एथलेटिक्स में सबसे अधिक मेडल, पर क्या पूरा होगा भारत के पहले पदक का इंतज़ार

उरूग्वे का खाता बोलिविया के गोलकीपर कार्लोस लाम्पे के आत्मघाती गोल से खुला जो उन्होंने 40वें मिनट में किया. एडिंसन कावानी ने 79वें मिनट में दूसरा गोल दागा. दूसरे मैच में पराग्वे के लिये ब्राइयान सामुडियो ने 33वें मिनट में हेडर पर पहला गोल किया. इसके बाद मिगुल अलमिरोन ने 58वें मिनट में दूसरा गोल दागा. उरूग्वे और पराग्वे का सामना अंतिम 16 में सोमवार को होगा. विजेता टीम को क्वार्टर फाइनल में ब्राजील का सामना करना पड़ सकता है.

Tags: Copa america, Copa America Football Tournament, Sports news





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  seven  =  one