Free Video Downloader

china yutu 2 rover investigating mysterious hut on the far side of the moon


बीजिंग. चांद हमेशा से ही हमारे लिए आश्चर्य का विषय रहा है. चंद्रमा पर चीन के युतु-2 रोवर (Yutu 2 rover) ने एक सुदूर इलाके में रहस्यमय चीज देखी है. यह चीज सबसे दूरदराज इलाके वॉन कार्मन क्रेटर के नजदीक नजर आई है. ये कुछ झोपड़ी जैसी दिखाई पड़ती है. वास्तव में ये क्या है, चीन के वैज्ञानिक इसका पता लगाने में जुट गए हैं.

चीन ने युतु 2 डायरी में किया खुलासा
चीन की अंतरिक्ष एजेंसी राष्ट्रीय अंतरिक्ष प्रशासन (सीएनएसए) के साथ काम करने वाले चाइनीज विज्ञान चैनल अवर स्पेस पर पब्लिश युतु 2 डायरी में इस घटना के बारे में बताया गया है. इस डायरी में कहा गया कि युतु 2 ने चंद्रमा के उत्तर में क्षितिज पर एक घन (cube-shaped) के आकार की वस्तु को देखा. यह वस्तु नवंबर में मिशन के 36वें चंद्र दिवस के दौरान लगभग 260 फीट (80 मीटर) दूर थी.

Nissan ने JAXA के साथ मिलकर पेश किया लूनर रोवर प्रोटोटाइप, जानिए खासियतें

वैज्ञानिकों ने रहस्यम झोपड़ी का नाम दिया
अवर स्पेस ने कहा कि हमने इस वस्तु को वस्तु को रहस्यमय झोपड़ी (शेनमी जियाओवू)) का नाम दिया है. यह नाम सांकेतिक है, क्योंकि हमें नहीं पता कि यह क्या है. युतु-2 मिशन से जुड़े वैज्ञानिकों ने भी इस रहस्यमय वस्तु पर आश्चर्य जताया है. उन्होंने कहा कि अगले 2-3 चंद्र दिनों में हम इस रोवर को क्रेटर से निकालकर उस रहस्यमय वस्तु के करीब लेकर जाने की कोशिश करेंगे. इससे हमें क्यूब के आकार की इस वस्तु का नजदीक से तस्वीर मिल सकती है.

पत्थर का विशाल टुकड़ा होने की संभावना
कई विशेषज्ञों का दावा है कि यह रहस्यम आकृति पत्थर का एक विशाल टुकड़ा हो सकता है. हालांकि, रोवर के नजदीक जाने के बाद ही इस रहस्य से पर्दा उठ सकता है. सौर ऊर्जा से चलने वाले युतु 2 और चांग’ई 4 लैंडर ने 3 जनवरी, 2019 को चंद्रमा के सबसे दूर लैंडिंग की थी. इसमें से युतु-2 चंद्रमा पर 186 किलोमीटर में फैले वॉन कार्मन क्रेटर में छानबीन कर रहा है.

इजराइल ने बनाई 65 KM लंबी लोहे की दीवार, चंद सेकेंड में खत्‍म होंगे दुश्‍मन

चंद्रमा की सतह पर चीन के कई मिशन सक्रिय
चीन के दो मिशन चांद की सतह पर पहले से ही मौजूद हैं. इसमें चेंग-ई-3 नाम का स्पेसक्राफ्ट 2013 में चांद के सतह पर पहुंचा था, जबकि जनवरी 2019 में चेंग-ई-4 चांद की सतह पर लैंडर और युटु-2 रोवर के साथ लैंड किया था. बताया जा रहा है कि ये मिशन अब भी एक्टिव हैं. (एजेंसी इनपुट के साथ)

Tags: China, Moon orbit, Moon’s orbit





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  five  =  2