Tom Latham says nothing gone in team favor after loss against india in 2nd test at mumbai wankhede stadium


मुंबई. भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को यहां 372 रन की करारी शिकस्त झेलने के बाद न्यूजीलैंड के कार्यवाहक कप्तान टॉम लाथम (Tom Latham) ने कहा कि यह उन मैचों में से एक है जहां कोई भी पल उनकी टीम के पक्ष में नहीं गया. कानपुर में खेले गए सीरीज के पहले टेस्ट मैच में पुछल्ले बल्लेबाजों की दृढ़ संकल्प भरी बल्लेबाजी के दम पर मैच ड्रॉ करने वाली न्यूजीलैंड की टीम वानखेड़े में 2 पारियों में महज 62 और 167 रन ही बना सकी.

भारतीय टीम ने दूसरे टेस्ट (IND vs NZ 2nd Test) चौथे दिन के खेल के शुरुआती घंटे के अंदर ही न्यूजीलैंड की दूसरी पारी को समेट कर 372 रन से रिकॉर्ड जीत दर्ज की. घरेलू सरजमीं पर रनों के लिहाज से भारत की यह सबसे बड़ी जीत है. नियमित कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) की गैरमौजूदगी में टीम का नेतृत्व कर रहे टॉम लाथम ने कहा, ‘यह क्रिकेट में उन पलों के बारे में है जहां कुछ भी आपके पक्ष में नहीं रहा.’

इसे भी देखें, एजाज पटेल का मुंबई में हुआ था जन्म, अब वानखेड़े में किया कमाल तो मिला सम्मान

उन्होंने कहा, ‘क्रिकेट में ऐसा होता है. हमने दुनिया भर में अलग-अलग समय पर टीमों के साथ ऐसा किया है, दुर्भाग्य से यह हमारा (बुरा) समय था और चीजें वैसी नहीं थी जैसी हम चाहते थे.’ मुंबई टेस्ट में पहली पारी को छोड़कर न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया. लाथम ने कहा कि उन्होंने स्पिनरों पर आक्रामक रूख अपनाने की योजना बनाई थी लेकिन यह काम नहीं आया.

लाथम ने कहा, ‘रॉस (टेलर) की स्पष्ट योजना थी, वह गेंदबाजों को दबाव में लाना चाहते थे. भारतीय उपमहाद्वीप की टीम के खिलाफ जब आप ऐसा करते हैं तो प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी बहुत जल्दी गेंद को नीचे रखने की कोशिश करते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘दुर्भाग्य से रॉस की योजना उतनी कारगर नहीं रही, लेकिन मुझे यकीन है वह इसी योजना के साथ मैदान में उतरे थे.’

इसे भी पढ़ें, अश्विन ने की 10 विकेट लेने वाले एजाज पटेल के लिए सिफारिश

उन्होंने भारतीय स्पिनरों की तारीफ करते हुए कहा, ‘आप इन परिस्थितियों में उन्हें दबाव बनाने का मौका नहीं दे सकते हैं. वे शानदार हैं। वे काफी सटीक हैं और आपको रन बनाने का मौका नहीं देते हैं. हम उन पर थोड़ा और दबाव बनाना चाहते थे और बल्लेबाजों के आस-पास खड़े क्षेत्ररक्षकों को पीछे करना चाहते थे.’ उन्होंने कहा कि पहली पारी में महज 62 रन पर आउट हो जाने के बाद टीम के लिए वापसी करना मुश्किल था. उन्होंने कहा कि उस पारी के अलावा टीम का प्रदर्शन उतना बुरा नहीं था.

कप्तान ने कहा, ‘यह कुछ ऐसा है जिसके बारे में हमने टीम में सभी के साथ बात की. इसके बाद भी हम मैच में वापसी की कोशिश कर रहे थे. अगर आप इसमें से पहली पारी को निकाल लें, तो जाहिर तौर हमारे लिए एक अलग कहानी होगी.’

Tags: Cricket news, IND vs NZ, India vs new zealand, Tom Latham





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty seven  ⁄  3  =