Sumit Nagal की हार के साथ ही टेनिस में खत्‍म हुई भारतीय चुनौती tokyo-olympics 2020 Sumit Nagal loses to Daniil Medvedev India tennis hopes end – News18 हिंदी


टोक्यो. भारत के सुमित नागल ( Sumit Nagal ) पुरुष एकल के दूसरे दौर में रूस ओलंपिक समिति (आरओसी) के दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी डेनियल मेदवेदेव के खिलाफ सीधे सेटों में शिकस्त के साथ टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) से बाहर हो गए. इसी के साथ टेनिस में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई है.
दुनिया के 160वें नंबर के खिलाड़ी नागल को दूसरे वरीय मेदवेदेव के खिलाफ एक घंटा और छह मिनट चले मुकाबले में 2-6, 1-6 से हार का सामना करना पड़ा. मेदवेदेव ने पहले सेट में दो जबकि दूसरे सेट में तीन बार नागल की सर्विस तोड़ी.

सिंगल में जीत दर्ज करने वाले तीसरे भारतीय बने थे सुमित 

नागल पहले दौर में उज्बेकिस्तान के डेनिस इस्तोमिन को 6-4, 6-7, 6-4 से हराकर ओलंपिक में 25 साल में पुरूष एकल स्पर्धा में जीत दर्ज करने वाले तीसरे भारतीय टेनिस खिलाड़ी बने थे. जीशान अली ने सियोल ओलंपिक 1988 की टेनिस पुरूष एकल स्पर्धा में पराग्वे के विक्टो काबालेरो को हराया था. उसके बाद लिएंडर पेस ने ब्राजील के फर्नाडो मेलिजेनी को हराकर अटलांटा ओलंपिक 1996 में कांस्य पदक जीता था.

Tokyo Olympics: भवानी की तलवार मेडल तो ना ला सकी, पर लड़कियों की आंखों में नए ख्वाब जरूर सजा दिए हैं

Tokyo Olympics: गन के टूटे लीवर ने तोड़ा मनु भाकर का ख्वाब, 17 मिनट हुए बर्बाद और हाथ से फिसल गया मेडल

इससे पहले महिल युगल में अनुभवी सानिया मिर्जा और अंकिता रैना की जोड़ी को पहले दौर में ही ल्युडमाइला किचेनोक और नादिया किचेनोक की युक्रेन की जुड़वां बहनों की जोड़ी ने 0-6, 7-6, 10-8 से हराकर बाहर कर दिया था.

Tags: Sania mirza, Sumit Nagal, Tennis, Tokyo 2020, Tokyo Olympics, Tokyo Olympics 2020





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty seven  ⁄  3  =