दर्शकों की गैर मौजूदगी, चोट के कारण निक किर्गीयोस ओलंपिक से हटे/Tokyo Olympics Tennis star Nick Kyrgios pulls out after fans banned from attending due to COVID surge – News18 हिंदी


सिडनी. टोक्यो ओलंपिक में दर्शकों के मैदान में प्रवेश पर प्रतिबंध की पुष्टि के कुछ घंटे बाद ही ऑस्ट्रेलिया के टेनिस स्टार निक किर्गीयोस ने 23 जुलाई से शुरू हो रहे खेलों से नाम वापिस ले लिया. किर्गीयोस ने सोशल मीडिया पर बयान देकर अपने फैसले की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि अपने स्वास्थ्य और टोक्यो ओलंपिक में दर्शकों का प्रवेश निषेध होने के कारण उन्होंने यह फैसला लिया.

उन्होंने कहा, ”ओलंपिक खेलना मेरा सपना था और मैं जानता हूं कि शायद यह मौका दोबारा नहीं मिलेगा. लेकिन मैं खाली स्टेडियम में नहीं खेल सकता. इसके साथ ही मैं चाहता हूं कि एक स्वस्थ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी टीम में मेरी जगह ले.” पेट की मांसपेशी में खिंचाव के कारण किर्गीयोस को विम्बलडन तीसरे दौर का मुकाबला भी छोड़ना पड़ा था. किर्गीयोस कोरोना महामारी के दौरान आस्ट्रेलिया में ही रहे और फ्रेंच ओपन में भी भाग नहीं लिया था.

बता दें कि सर्बिया के नोवाक जोकोविच, स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर, जापान की नाओमी ओसाका और ऑस्ट्रेलिया की ऐश्ले बार्टी टोक्यो ओलंपिक की प्रवेश सूची में शामिल हैं, जिसकी घोषणा अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) कर चुका है. आईटीएफ ने हालांकि पहले ही कहा था कि प्रवेश सूची में अब भी बदलाव हो सकता है. वहीं, फेडरर ने पिछले सप्ताहांत कहा था कि वह 11 जुलाई को विंबलडन के खत्म होने का इंतजार करेंगे और उसके बाद फैसला करेंगे कि वह जापान जाना चाहेंगे या नही.

जोकोविच ने स्पष्ट कर दिया है कि वह ‘गोल्डन स्लैम’ पूरा करने की कोशिश करेंगे जिसे 1988 में स्टेफी ग्राफ ही पूरा कर पाई थी, जब उन्होंने एक ही साल में चारों ग्रैंडस्लैम जीतने के अलावा ओलंपिक एकल स्वर्ण पदक भी जीता था. जोकोविच इस साल फरवरी में आस्ट्रेलिया ओपन और पिछले महीने फ्रेंच ओपन का खिताब जीत चुके हैं और शुक्रवार को उन्हें विंबलडन में तीसरे दौर का मुकाबला खेलना है.

ओलंपिक के साथ ओसाका की प्रतियोगिताओं में वापसी होगी. मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ा ब्रेक लेने के लिए वह फ्रेंच ओपन के पहले दौर के बाद हट गई थी. ओलंपिक 23 जुलाई से खेले जाएंगे और टेनिस प्रतियोगिता इसके अगले दिन से हार्ड कोर्ट पर शुरू होगी. पात्रता खिलाड़ियों की 14 जून की रैंकिंग होगी. इसके एक दिन पहले फ्रेंच ओपन खत्म हुआ था. महिलाओं में नंबर एक खिलाड़ी बार्टी, नंबर दो ओसाका, नंबर चार बेलारूस की एरिना सबालेंका, नंबर पांच युक्रेन की एलिना स्वितोलिना, नंबर सात कनाडा के बियांका आंद्रेस्क्यू, नंबर नौ पोलैंड की इगा स्वियातेक और नंबर 10 चेक गणराज्य की पेत्रा क्वितोवा हैं.

रोमानिया की सिमोना हालेप के अलावा अमेरिका की सेरेना विलियम्स और सोफिया केनिन टोक्यो नहीं जाएंगी. पुरुष वर्ग में नंबर एक जोकोविच, नंबर दो रूस के डेनिल मेदवेदेव, नंबर चार यूनान के स्टीफानोस सितसिपास, नंबर छह जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव, नंबर सात रूस के आंद्रे रूबलेव, नंबर आठ फेडरर और नंबर नौ इटली के मातियो बेरेटिनी हैं.

स्पेन के रफेल नडाल और रोबर्टो बतिस्ता आगुत और आस्ट्रिया के डोमीनिक थीम टोक्यो नहीं जाएंगे. दो बार के गत चैंपियन ब्रिटेन के एंडी मरे भी सूची में शामिल हैं, जिन्हें विशेष छूट दी गई क्योंकि जिन खिलाड़ियों की रैंकिंग सीधे प्रवेश के लिए पर्याप्त नहीं है उनमें उन्होंने सबसे अधिक ओलंपिक और ग्रैंडस्लैम खिताब जीते हैं.

Tags: Nick kyrgios, Olympics, Olympics 2020, Tokyo 2020, Tokyo Olympics, Tokyo Olympics 2020





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighty four  ⁄    =  14