Free Video Downloader

Pentagon released another report regarding China big disclosure on China biological weapons


वॉशिंगटन. चीन इस समय तेजी से अपने हथियारों के जखीरे को बढ़ा रहा है. दो दिन पहले चीन (China) के परमाणु हथियारों को लेकर पेंटागन (Pentagon) ने एक बड़ा खुलासा किया था. अब एक बार फिर से पेंटागन ने चीन के जैविक हथियारों (Biological weapons) पर बड़ी बात कही है. पेंटागन ने अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा है चीन इस समय जैविक हथियारों की गतिविधियों में लगा हुआ है, जोकि जहरीले हथियारों (Toxins Weapons) के सम्मेलन (BWC) और रासायनिक हथियारों के सम्मेलन (CWC) के लिए एक बड़ी चिंता है.

सैन्य और सुरक्षा विकास नाम की पेंटागन की रिपोर्ट में कहा गया है कि पीआरसी सैन्य चिकित्सा संस्थानों में किए गए अध्ययनों में दोहरे उपयोग वाले हथियारों के साथ शक्तिशाली जहरीले पदार्थों की अलग-अलग फैमिली की पहचान की गई है. पेंटागन की कुल 192 पेज की रिपोर्ट में कहा गया कि उपलब्ध जानकारी के अनुसार अमेरिका यह प्रमाणित नहीं कर सकता कि फार्मास्युटिकल शोध और संभावित दोहरे उपयोग वाले हथियारों और जहरीले पदार्थों से जुड़ी चिंताओं के कारण बीजिंग ने सीडब्ल्यूसी के अपने दायित्वों  पूरा किया होगा.

इसे भी पढ़ें :-चीन-पाकिस्तान के पास है बड़ा परमाणु जखीरा, इस नई रिपोर्ट ने बजाई भारत के लिए खतरे की घंटी

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीन तेजी से अपने जमीन, समुद्र और हवा से हवा में मार करने वाले परमाणु हथियारों के विस्तार करने में लगा हुआ है. और अपने परमाणु बलों के इस बड़े विस्तार का समर्थन करने के लिए आवश्यक बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहा है.

इसे भी पढ़ें :- 2049 तक दुनिया की सबसे बड़ी ताक़त बनने का सपना देख रहा चीन: रिपोर्ट

चीन से जुड़े सैन्य और सुरक्षा विकास पर अमेरिकी रक्षा विभाग (डीओडी) की वार्षिक रिपोर्ट बुधवार को जारी की गई. इस रिपोर्ट में बताया गया कि चीन के पास 2030 तक कुल परमाणु हथियारों की संख्या 1000 के करीब होगी. पेंटागन की इस रिपोर्ट ने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया है. वहीं दूसरी तरफ चीन ने पेंटागन की रिपोर्ट पर आपत्ति जताते हुए इसे भ्रामक करार दिया है.

Tags: China, India china border, India-China border issue





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  ⁄  three  =  two