World Athletics honours Anju Bobby George with Woman of Year Award


मोनाको. भारत की महान एथलीट अंजू बॉकी जॉर्ज को विश्व एथलेटिक्स ने देश में प्रतिभाओं को तराशने और लैंगिक समानता की पैरवी के लिए वर्ष की सर्वश्रेष्ठ महिला का पुरस्कार दिया है. विश्व चैम्पियनशिप में मेडल जीतने वाली एकमात्र भारतीय अंजू ( पेरिस 2003 ) को बुधवार की रात सालाना पुरस्कारों के दौरान इस सम्मान के लिए चुना गया. इसके अलावा वह आईएएएफ विश्व एथलेटिक्स फाइनल्स (मोनाको 2005) की स्वर्ण पदक विजेता और अपने शानदार करियर के दौरान लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाली अंजू देश की सबसे प्रेरणादायी ट्रैक एवं फील्ड स्टार हैं.

विश्व एथलेटिक्स ने एक विज्ञप्ति में कहा, ”पूर्व अंतरराष्ट्रीय लंबी कूद खिलाड़ी भारत की अंजू बॉबी जॉर्ज अभी भी खेल से जुड़ी है. उसने 2016 में युवा लड़कियों के लिए प्रशिक्षण अकादमी खोली, जिससे विश्व अंडर 20 मेडल विजेता निकली है.”
इसमें कहा गया, ”भारतीय एथलेटिक्स महासंघ की सीनियर उपाध्यक्ष होने के नाते वह लगातार लैंगिक समानता की वकालत करती आई हैं. वह खेल में भविष्य में नेतृत्व के लिए भी स्कूली लड़कियों का मार्गदर्शन कर रही हैं.”

अंजू ने कहा कि वह यह सम्मान पाकर गौरवान्वित और अभिभूत हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ”सुबह उठकर खेल के लिए कुछ करने से बेहतर अहसास कुछ नहीं है. मेरे प्रयासों को सराहने के लिए धन्यवाद.”

बता दें कि अपने पति रॉबर्ट बॉबी जार्ज से कोचिंग लेने के बाद अंजू का करियर नई ऊंचाईयों पर पहुंचा. वह ओलिंपिक 2004 में छठे स्थान पर रही थीं. उन्होंने तब 6.83 मीटर की कूद लगाई थी. अमेरिका की मरियन जोन्स को डोपिंग आरोपों के कारण अयोग्य घोषित किए जाने के बाद अंजू को 2007 में पांचवां स्थान दिया गया था.

Tags: Anju Bobby George





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ninety eight  ⁄    =  14